--Advertisement--

चारभुजा मंदिर के ताले टूटे, चोरों ने चुराए चांदी के मुकुट

किशनगंज सावर कस्बे के भगवान चारभुजा नाथ मंदिर में चोरियों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है।

Danik Bhaskar | Dec 30, 2017, 07:55 AM IST

अजमेर. किशनगंज सावर कस्बे के भगवान चारभुजा नाथ मंदिर में चोरियों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। चोरों ने बाजटा गांव में कुमावत समाज के चारभुजा मंदिर के ताले तोड़कर वहां मूर्ति से चांदी के दो मुकुट चुरा लिए। उन्होंने बक्से के ताले तोड़कर सामान बिखेर दिया। पुलिस ने पुजारी की रिपोर्ट पर अज्ञात चोरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस के लिए ये चोरियां लगातार चुनौतियां बनती जा रही है उधर ग्रामीण चोरियां खोलने की मांग को लेकर सावर में आंदोलन कर रहे हैं।


- सावर थाना प्रभारी जगदीश प्रसाद ने बताया कि पुजारी बाजटा निवासी मुकुंद दास पुत्र मोतीदास वैष्णव ने रिपोर्ट में बताया कि वह बाजटा के कुमावत समाज के चारभुजा मंदिर का पुजारी है। रोजाना की तरह 28 दिसंबर की रात को वह पूजा-अर्चना कर रात 9 बजे मंदिर के ताला लगाकर घर जाकर सो गया।

- 29 दिसंबर की अल सुबह 5.30 बजे जब वह मंदिर में पूजा अर्चना करने गया तो वहां उन्हें गेट के ताले टूटे हुए मिले। पुजारी ने मंदिर के भीतर जाकर देखा तो वहां भगवान चारभुजा की मूर्ति पर लगे 2 चांदी के मुकुट नहीं मिले। वहीं बरामदे में रखा बक्से का भी ताला टूटा हुअा मिला और सामान बिखरे हुआ मिला। पुजारी ने बताया कि बक्से में रखे चांदी के दो चंवरों को भी अज्ञात चोर चुरा कर ले गए।

- पुजारी ने तुरंत ग्रामीणों को एवं कुमावत समाज के लोगों को चोरी की वारदात की सूचना दी। तब सभी लोग मंदिर में जमा हो गए। सावर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर चोरी की वारदात का मौका मुआयना किया। उधर चोरी से आक्रोशित कुमावत समाज एवं बाजटा के ग्रामीणों ने शुक्रवार को सावर थाने में चोरी की घटना का विरोध जताया।

- पुलिस ने पुजारी की रिपोर्ट पर अज्ञात चोरों के खिलाफ मन्दिर का ताला तोडकर मूर्ति से मुकुट एवं चांदी के जेवर एवं अन्य सामान चुराने का मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। वारदात स्थल पर बिखरा पड़ा सामान।