Hindi News »Rajasthan »Ajmer» ICSI Executive S New Syllabus Apply

ICSI एग्जीक्यूटिव का नया सिलेबस लागू, अब स्टूडेंट्स नए सिलेबस में होंगे रजिस्टर

सभी पेपर 100 अंक के होंगे अौर हर पेपर को हल करने के लिए तीन घंटे का समय दिया जाएगा।

Bhaskar News | Last Modified - Mar 04, 2018, 08:25 AM IST

ICSI एग्जीक्यूटिव का नया सिलेबस लागू, अब स्टूडेंट्स नए सिलेबस में होंगे रजिस्टर

अजमेर. द इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेक्रेटरीज ऑफ इंडिया (अाईसीएसअाई) ने नया एग्जीक्यूटिव सिलेबस लागू कर दिया है। एक मार्च के बाद रजिस्टर होने वाले स्टूडेंट्स अब ऑटोमैटिकली नए सिलेबस में कन्वर्ट हो जाएंगे अौर जो स्टूडेंट्स पहले रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं, वे चाहें तो अोल्ड सिलेबस से न्यू सिलेबस में अा सकते हैं या पुराने सिलेबस को भी जारी रख सकते हैं।


मॉड्यूल-1 में चार विषय

मॉड्यूल-1 में ज्यूरिसप्रूडेंस, इंटरप्रिटेशन अौर जनरल लॉ अौर सेटिंग ऑफ बिजनेस एथिक्स एंड क्लोजर नया विषय है। इसमें स्टूडेंट्स संविधान, सीपीसी, सीअाईपीसी, अारटीअाई, अार्बिट्रेशन, स्टैंप, रजिस्ट्रेशन, एविडेंस, स्पेसिफिक रिलीफ अादि टॉपिक्स पढ़ेंगे। इसी मॉड्यूल में एक अौर नया विषय है, सेटिंग ऑफ बिजनेस एथिक्स एंड क्लोजर। इसमें स्टूडेंट्स इंसॉल्वेंसी, क्लोजर ऑफ बिजनेस, लिक्विडेशन, रजिस्ट्रेशन, लाइसेंस एंड कम्पलाइसेंस अादि टॉपिक्स पढ़ेंगे। इसके अलावा कंपनी लॉ अौर टैक्स लॉ पहले की तरह कुछ नए संशोधनों के साथ शामिल रहेगा। इस तरह मॉड्यूल-1 में चार विषय होंगे।


मॉड्यूल-2 में नया विषय

मॉड्यूल-2 में फाइनेंशियल एंड स्ट्रेटिजिक मैनेजमेंट नया विषय होगा। यह विषय अभी तक सीएस फाइनल में पढ़ाया जाता था, जिसे अब एग्जीक्यूटिव में शामिल कर लिया गया है। नए सिलेबस में अब पहले की तरह मल्टीपल च्वॉइस सवाल भी नहीं होंगे। सभी पेपर 100 अंक के होंगे अौर हर पेपर को हल करने के लिए तीन घंटे का समय दिया जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ajmer News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: ICSI egajikyutiv ka nyaa silebs laagau, ab students ne silebs mein hongae rjistr
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Ajmer

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×