--Advertisement--

लोकसभा उपचुनाव: पहली बार बेरोजगारों की तरफ से निर्दलीय कैंडिडेट चुनाव मैदान में

हरिश्चंद्र त्रिपाठी को लोकसभा उपचुनाव के लिए बतौर निर्दलीय प्रत्याशी नामांकन दाखिल कराया गया।

Danik Bhaskar | Jan 10, 2018, 07:42 AM IST

अजमेर. अजमेर संसदीय उपचुनाव में मंगलवार का दिन ऐतिहासिक दिन रहा, जबकि पहली बार किसी उपचुनाव में बेरोजगार प्रत्याशी भी मैदान में उतरा है। राजस्थान एकीकृत बेरोजगार महासंघ की ओर से हरिश्चंद्र त्रिपाठी को लोकसभा उपचुनाव के लिए बतौर निर्दलीय प्रत्याशी नामांकन दाखिल कराया गया।


- महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष उपेन यादव की अगुवाई में बड़ी संख्या में बेरोजगार कलेक्ट्रेट पहुंचे और लोकसभा उपचुनाव के प्रत्याशी हरीश चंद्र त्रिपाठी को साथियों ने मालाएं पहनाईं। बाद में यह प्रतिनिधि मंडल अतिरिक्त जिला कलेक्टर के कक्ष में पहुंचा और पर्चा दाखिल किया।

- प्रदेश अध्यक्ष उपेन यादव ने बताया कि भाजपा सरकार ने बेरोजगारों के साथ ठगी की है, न नई भर्तियां जारी की और न पुरानी भर्तियों की प्रक्रिया भी पूरी हो पाई।

- प्रदेशभर में बेरोजगारों में सरकार के खिलाफ नाराजगी है। इसे देखते हुए भी बेरोजगारों ने अपना प्रत्याशी उतारने का फैसला कर लिया।


दो दिन लगे पर्चा दाखिल करने में
- त्रिपाठी सोमवार को पर्चा दाखिल करने पहुंच गए थे। सभी औपचारिकता पूरी कर ली गईं, लेकिन शपथ पत्र टाइप नहीं था।

- इसे देखते हुए नामांकन अधिकारी ने उन्हें निर्देश दिए कि शपथ पत्र टाइप करा कर सबमिट करें। बेरोजगार अभ्यर्थी शपथ टाइप कराने बाहर आ गए। जब टाइप कराकर दोबारा पहुंचे तो मालूम हुआ 3 बज गए थे और कार्यालय बंद हो गया था। अब आज त्रिपाठी और उनके साथी दोबारा पहुंचे और शपथ दाखिल किया। इसके बाद ही उनका पर्चा दाखिल माना गया।