--Advertisement--

शीशी खोली...हाथ में भरी स्याही और सचिव के चेहरे पर पोत दिया फिर मारा जूता

गबन के आरोप में रिपोर्ट दर्ज कराने पर थी नाराजगी

Dainik Bhaskar

Mar 13, 2018, 07:54 AM IST
शीशी खोली....हाथ में स्याही भर चेहरे पर पोती फिर सचिव बचाव में उठे, हाथ पकड़े.... शीशी खोली....हाथ में स्याही भर चेहरे पर पोती फिर सचिव बचाव में उठे, हाथ पकड़े....

अजमेर. गबन के आरोप में रिपोर्ट दर्ज कराने से नाराज शेख हसीबुर्रहमान चिश्ती ने देर रात अंजुमन यादगार के सचिव शेखजादा माजिद चिश्ती के मुंह पर कालिख पोत दी और जूतों से पिटाई भी की। इस मामले में अंजुमन यादगार के मेंबर्स बैठक आयोजित कर हसीबुर्रहमान के खिलाफ कोई ठोस फैसला ले सकते हैं। चिश्ती की ओर से दरगाह थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद से ही हसीबुर्रहमान फरार है। दरगाह थाना पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। ये था पूरा मामला...


- दो दिन पूर्व अंजुमन यादगार की पिछली कार्यकारिणी में तीन लाख से ज्यादा का गबन और धोखाधड़ी के मामले में सचिव माजिद चिश्ती ने अंजुमन के पूर्व सचिव हसीबुर्रहमान और शेखजादा अमजद के खिलाफ इस्तगासा पेश किया था, जिस पर अदालत ने संबंधित थाने को मुकदमा दर्ज के आदेश दिए।
- हसीबुर्रहमान ने चाचा के खिलाफ दर्ज कराए गए प्रकरण से नाराज होकर माजिद चिश्ती के मुंह पर कालिख पोत दी।

- यह वारदात उस समय अंजाम दी गई जब सचिव माजिद चिश्ती अंजुमन यादगार में समाज के लोगों की बैठक ले रहे थे।

- सचिव के साथ की गई शर्मनाक वारदात से अंजुमन यादगार सहित शेखजादगान समाज नाराज हैं, उन्होंने एक मत होकर वारदात की कड़ी निंदा की है।

- अंजुमन यादगार के सदर शेखजादा अब्दुल जर्रार चिश्ती ने बताया कि अंजुमन यादगार में समाज की बैठक में हसीबुर्रहमान और समर्थकों के खिलाफ ठोस फैसला लिया जा सकता है।

सचिव के चेहरे पर पोती सचिव के चेहरे पर पोती
...तो उन्हें जूता भी दे मारा ...तो उन्हें जूता भी दे मारा
X
शीशी खोली....हाथ में स्याही भर चेहरे पर पोती फिर सचिव बचाव में उठे, हाथ पकड़े....शीशी खोली....हाथ में स्याही भर चेहरे पर पोती फिर सचिव बचाव में उठे, हाथ पकड़े....
सचिव के चेहरे पर पोतीसचिव के चेहरे पर पोती
...तो उन्हें जूता भी दे मारा...तो उन्हें जूता भी दे मारा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..