--Advertisement--

डॉक्टर के ठिकानों पर IT रेड दूसरे दिन भी जारी, हीरे जड़ित करोड़ों के जेवरात मिले

कुल पांच बैंक लॉकर मिले हैं, जिसमें करोड़ों की ज्वैलरी होना सामने आया है।

Danik Bhaskar | Dec 21, 2017, 08:19 AM IST

अजमेर. शहर के जाने-माने नेत्ररोग विशेषज्ञ के अस्पतालों आैर आवास पर आयकर रेड की कार्रवाई बुधवार को दूसरे दिन भी जारी रही। रेड की कार्रवाई में शामिल उदयपुर की तीनों टीमें संयुक्त निदेशक एम रघुवीर के दिशा-निर्देशन में आय के स्त्रोत, बैंक लॉकर्स, नकदी, ज्वैलरी, संपत्तियों आैर खातों से जुड़े दस्तावेजों को खंगालने में जुटी हैं। अब तक की जांच में करोड़ों रुपए कीमत के हीरे जड़ित जेवरात मिलना सामने आया है। इधर, आयकर अधिकारियों का कहना है कि आय का आकलन किया जा रहा है।

आयकर टीमों ने खंगाले डॉक्टर के 5 बैंक लॉकर आैर अकाउंट

कचहरी रोड स्थित हॉस्पिटल, पंचशील स्थित हॉस्पिटल आैर कुंदन नगर स्थित आवास पर आयकर रेड की कार्रवाई दूसरे दिन भी जारी रही। हॉस्पिटल के मालिक चिकित्सक व उसके पुत्र व परिवार के नाम के सभी बैंक अकाउंट खंगाले गए। कुल पांच बैंक लॉकर मिले हैं, जिसमें करोड़ों की ज्वैलरी होना सामने आया है।

आयकर के टारगेट पर निजी अस्पताल व चिकित्सक
रेड की कार्रवाई से निजी अस्पतालों के संचालकों में खलबली मच हुई है। आयकर विभाग के पास अजमेर रेंज के 9 अस्पतालों व चिकित्सकों के नामों की सूची है, जो लंबे समय से आयकर चोरी कर रहे हैं। विभाग के पास ऐसे सरकारी चिकित्सकों के नाम भी हैं, जिनके घरों के बाहर मरीजों की लंबी कतारें लगती हैं आैर वे मोटी फीस वसूलते हैं।