--Advertisement--

हरियाणा का 1 लाख का इनामी अपराधी निर्दलीय कैंडिडेट के ऑफिस से मिला

सिरसा की क्राइम ब्रांच पुलिस टीम ने तीन दिन की मशक्कत के बाद धरदबोचा

Danik Bhaskar | Jan 19, 2018, 05:54 AM IST

अजमेर. हरियाणा की सिरसा जेल से पैरोल पर छूटने के बाद फरार कुख्यात अपराधी विनोद उर्फ तारी अजमेर लोकसभा उपचुनाव में एक निर्दलीय उम्मीदवार का कार्यकर्ता बनकर पुलिस से आंख मिचौली खेल रहा था। हरियाणा की क्राइम ब्रांच पुलिस की स्पेशल टीम ने जिला पुलिस की मदद से आरोपी को शास्त्रीनगर इलाके में निर्दलीय उम्मीदवार शिव भगवान के कार्यालय से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी को शरण देने के शक में कार्यालय का कामकाज देखने वाले दो कार्यकर्ताओं को भी हिरासत में लिया है। उम्मीदवार शिव भगवान से भी इस बारे में पूछताछ की है।

हत्या के मामले में सजायाफ्ता विनोद पैरोल के बाद हुआ था फरार

हरियाणा पुलिस की क्राइम ब्रांच पुलिस के इंस्पेक्टर अजयकुमार ने बताया कि विनोद उर्फ तारी पुत्र विजेन्द्र सिंह पर हत्या, लूट, सरेआम फायरिंग और जानलेवा हमले के कई प्रकरण दर्ज हैं। हत्या के मामले में विनोद को बीस साल की सजा हुई है। वह सिरसा जेल में सजा काट रहा था। चार महीने पहले पैरोल पर रिहा हुआ और उसके बाद से फरार हो गया था। हरियाणा पुलिस दल पिछले तीन दिन से अजमेर में डेरा डालकर उसकी तलाश कर रहा था।

गुरुवार को एसपी राजेन्द्र सिंह चौधरी के निर्देश पर काेतवाली थाना प्रभारी धर्मवीर सिंह, सिविल लाइंस थाना प्रभारी करणसिंह और गंज थाना पुलिस के दल ने हरियाणा पुलिस दल के साथ मिलकर आरोपी को शास्त्रीनगर इलाके से गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के अनुसार आरोपी को निर्दलीय उम्मीदवार शिव भगवान के कार्यालय के बाहर से पकड़ा गया। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह दो दिन से उम्मीदवार का कार्यकर्ता बनकर फरारी काट रहा था। पुलिस ने शरण देने के शक में किशोर और एक अन्य को भी हिरासत में लिया है। हरियाणा पुलिस के अनुसार इस बारे में उम्मीदवार शिव भगवान से भी पूछताछ की गई है।

फरारी के दौरान भी कुख्यात विनोद ने सरेआम फायरिंग कर लूटी थी कार
हरियाणा पुलिस के इंस्पेक्टर अजयसिंह ने बताया कि विनोद उर्फ तारी सिरसा जेल से पैरोल पर छूटने के बाद फरार हो गया था और उसने फरारी के दौरान लूट, फायरिंग कर जानलेवा हमला और डकैती की वारदातें की थी। गत 30 दिसंबर 2017 को विनोद ने कार सवार रवि पर फायरिंग कर उसे गंभीर रूप से जख्मी कर दिया था और उसकी बोलेरो लेकर भाग गया था। सिरसा के मंडी इलाके के निवासी विनोद की गिरफ्तारी पर हरियाणा पुलिस ने एक लाख रुपए का इनाम घोषित कर रखा है।

आनंदपाल एनकाउंटर में शामिल दल ने की कार्रवाई

एक लाख के इनामी अपराधी को पकड़ने वाले हरियाणा के सिरसा पुलिस दल में शामिल पुलिस कर्मी राजेन्द्र सिंह सहित अन्य पुलिस जवानों ने आनंदपाल सिंह एनकाउंटर में सहभागिता निभाई थी। राजेन्द्र सिंह की पिस्टल की गोली आनंदपाल को लगी थी।

विरोधियों की साजिश
निर्दलीय उम्मीदवार शिव भगवान का कहना है कि विरोधी चुनाव मैदान से हटने के लिए धमकियां दे रहे हैं। दो दिन पहले एसपी को शिकायत पत्र दिया। अपराधी विनोद को भी साजिश के तहत कार्यालय में भेजा गया हो सकता है।