Hindi News »Rajasthan »Ajmer» Rajasthan Teacher Eligibility Test

REET फर्स्ट लेवल में 91.75 और सेकंड लेवल में 92.43 फीसदी अटेंडेंस

जैसलमेर, जाेधपुर, बहरोड़, बाड़मेर में नकल के मामले सामने आए, प्रदेश में शांतिपूर्वक संपन्न हुई परीक्षा

Bhaskar News | Last Modified - Feb 12, 2018, 05:44 AM IST

  • REET फर्स्ट लेवल में 91.75 और सेकंड लेवल में 92.43 फीसदी अटेंडेंस
    +3और स्लाइड देखें

    अजमेर. राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा-2017 (रीट) प्रदेशभर में शांतिपूर्वक संपन्न हुई। रीट के फर्स्ट लेवल में 91.75 प्रतिशत उपस्थिति रही। वहीं सैकंड लेवल में 92.43 फीसदी उपस्थिति दर्ज की गई। जैसलमेर, बाड़मेर, बहरोड़ और जोधपुर में नकल के मामले सामने आए हैं। बोर्ड प्रशासन ने प्रश्नपत्र लीक होने या नकल से जुड़े अन्य मामलों को नकारते हुए इसके सफल संचालन का दावा किया है।


    माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष प्रो. बीएल चौधरी ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित कर बताया कि रीट का आयोजन प्रदेश के 2253 केंद्रों पर हुआ। द्वितीय स्तर की परीक्षा में 8,04,122 और प्रथम स्तर की परीक्षा में 2,08,877 परीक्षार्थी पंजीकृत किए गए थे। द्वितीय स्तर की परीक्षा में 7,43,250 यानी 92.43 फीसदी अभ्यर्थी शामिल हुए।

    प्रथम स्तर की परीक्षा में 1,91,644 यानी 91.75 प्रतिशत अभ्यर्थी शामिल हुए। नकल व अनुचित साधनों की रोकथाम के लिए सीसीटीवी कैमरों का सर्विलांस, परीक्षार्थियों की वीडियोग्राफी, जैमर, उड़नदस्ते सहित अन्य कड़े इंतजाम किए गए थे। परीक्षा के दौरान परीक्षार्थी की सभी गतिविधियां सीसीटीवी कैमरों के सर्विलांस में रही। माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के रीट कार्यालय स्थित कंट्रोल रूम से भी राज्यभर में परीक्षा आयोजन पर नजर रखी गई।

    परीक्षार्थी की जगह कोई और परीक्षा देते पकड़े गए

    बोर्ड अध्यक्ष प्रो. चौधरी ने बताया कि परीक्षा के दौरान जोधपुर, जैसलमेर, बहरोड़, बाड़मेर में नकल के मामले सामने आए हैं। जैसलमेर में रोशन राम की जगह महिपाल नामक युवक परीक्षा देते पकड़ा गया। इसी प्रकार जोधपुर में भी एक अभ्यर्थी मांगीलाल की जगह कोई और परीक्षा देते पकड़ा गया। इसी तरह के मामले बहरोड़ और बाड़मेर में भी सामने आए हैं। बोर्ड अध्यक्ष के अनुसार फिलहाल बोर्ड के पास नकल से जुड़े अधिकृत आंकड़े नहीं पहुंचे हैं। सोमवार तक सभी जिलों से जानकारी मिलने पर ही नकल से जुड़े मामलों के आंकड़े सामने आ सकेंगे।

    आंसर की से जुड़ी सूचनाएं महज अफवाह
    बोर्ड अध्यक्ष प्रो. चौधरी ने बताया कि रविवार को परीक्षा शुरू होने के साथ ही बोर्ड को विभिन्न माध्यमों से कथित प्रश्न पत्रों और उनकी आंसर की को लेकर फोटोप्रतियां प्राप्त हुईं, ये जांच में फर्जी पाई गई। राज्य प्रशासन के उच्चाधिकारियों, जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, एसओजी और राज्य के खुफिया तंत्र ने भी इस परीक्षा आयोजन में महत्ती भूमिका निभाई।

    देवनानी ने देखी व्यवस्थाएं

    शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने रविवार सुबह रीट कार्यालय पहुंचकर परीक्षा व्यवस्था की जानकारी ली। उन्होंने रीट कंट्रोल रूम में बैठकर राज्य के सभी जिलों में परीक्षा आयोजन का जायजा लिया तथा बोर्ड की ओर से किए गए प्रबंध की सराहना करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

  • REET फर्स्ट लेवल में 91.75 और सेकंड लेवल में 92.43 फीसदी अटेंडेंस
    +3और स्लाइड देखें
  • REET फर्स्ट लेवल में 91.75 और सेकंड लेवल में 92.43 फीसदी अटेंडेंस
    +3और स्लाइड देखें
  • REET फर्स्ट लेवल में 91.75 और सेकंड लेवल में 92.43 फीसदी अटेंडेंस
    +3और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ajmer

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×