Hindi News »Rajasthan »Ajmer» Sindhi Voters Not Left BJP Support Ajmer Loksabha Seat Analysis

सिंधी वोटों ने नहीं छोड़ा बीजेपी का साथ, कांग्रेस ने छिटके हुए SC वोट बैंक को किया हासिल

उपचुनाव में पड़े वोटों के बूथ वार आंकड़े बयां करते हैं किस तरह जाति और क्षेत्रों की राजनीति ने किया काम

पंकज यादव | Last Modified - Feb 03, 2018, 04:00 AM IST

  • सिंधी वोटों ने नहीं छोड़ा बीजेपी का साथ, कांग्रेस ने छिटके हुए SC वोट बैंक को किया हासिल
    +4और स्लाइड देखें

    अजमेर. लोकसभा उप चुनाव में जातिगत समीकरण पूरी तरह हावी रहे। भाजपा का परंपरागत वोट माना जाने वाला सिंधी मतदाता इस चुनाव में पूरी तरह साथ रहा। वहीं, दूसरी ओर पिछले चुनावों में कांग्रेस से लगातार छिटक रहा एससी वोट बैंक दुबारा कांग्रेस में लौटा है। वहीं राजपूत और ब्राह्मणों ने भी कांग्रेस को समर्थन दिया। जबकि दूसरे जाति वर्ग में भी सरकार से नाराजगी झलकी और यहां वोटों का बंटवारा करीब 60 व 40 के अनुपात में सामने आया। संसदीय क्षेत्र के उत्तर और दक्षिण विधानसभा क्षेत्र के बूथ वार आंकड़े इसी ओर इशारा करते हैं।

    - संसदीय क्षेत्र के उत्तर और दक्षिण दोनों ही विधानसभा क्षेत्रों से कांग्रेस को बढ़त मिली है, लेकिन यह बढ़त उत्तर में कम और दक्षिण में कुछ ज्यादा है।

    - उत्तर में कांग्रेस को कम बढ़त मिलने की मुख्य वजह यहां से भाजपा के विधायक व मंत्री वासुदेव देवनानी रहे हैं।

    - इस विधानसभा क्षेत्र के सिंधी मतदाताओं ने जमकर मतदान किया और यह सभी वोट भाजपा को मिले।

    - इसके अलावा इस क्षेत्र में कुछ सालों पहले जुड़े रावत बहुत क्षेत्र के गांवों में भी भाजपा को रावत वोट बड़ी संख्या में हासिल हुए, लेकिन कुछ रावत क्षेत्रों में वोट बंटा हुआ भी दिखाई दिया।

    - ऐसे भी कुछ क्षेत्र रहे जहां भाजपा पार्षद के व्यवहार और कराए गए कार्यों से वहां के लोगों ने भाजपा को वोट दिया। इसके बावजूद गुर्जर सहित अन्य जाति वर्ग से जुड़े क्षेत्रों में भाजपा पिछड़ी नजर आ रही है।

    कांग्रेस को दोहरा फायदा

    - वहीं दक्षिण विधानसभा क्षेत्र के बूथवार आंकड़ों पर नजर डाली तो पता चलता है कि यहां कांग्रेस को दोहरा फायदा हो गया।

    - लंबे समय से कांग्रेस से छिटका एससी वोट बैंक इस चुनाव में दुबारा कांग्रेस के साथ नजर आया वहीं क्षेत्र के अन्य जाति वर्ग की सरकार से नाराजगी कांग्रेस की झोली में वोटों के तौर पर नजर आई।

    - इधर भाजपा के परंपरागत माली वोटों का झुकाव भाजपा की तरफ ही दिखा। दोनों विधानसभा क्षेत्रों में मुस्लिम बहुल इलाकों में कांग्रेस के पक्ष में जमकर वोट पड़े।

    1. अजमेर उत्तर विधानसभा

    #बूथ जहां कांग्रेस को मिली बढ़त
    माकड़वाली क्षेत्र के बूथ नंबर दो पर कांग्रेस का 578 और भाजपा को मात्र 38 वोट मिले।
    चौरसियावास के बूथ नंबर छह पर कांग्रेस को 745 और भाजपा को मात्र 29 वोट मिले।
    लोहाखान के बूथ नंबर 93 से कांग्रेस को 649 वहीं भाजपा को 182 वोट हासिल हुए।
    लाखन कोटड़ी बूथ नंबर 127 व 128 पर कांग्रेस को 630 व 552 वहीं भाजपा को 210 व 214 वोट मिले।
    अंदरकोट, इमामबाड़ा, लंगरखाना गली के दस बूथों पर कांग्रेस को कुल 6038 वोट हासिल हुए वहीं भाजपा को 445 वोट मिले।
    कुंदन नगर के बूथ संख्या 185 और 187 पर कांग्रेस को 361 व 451 वोट वहीं भाजपा को 82 और 228 वोट हासिल हुए।


    #जहां भाजपा को बढ़त
    रामनगर व हाथीखेड़ा के बूथ नंबर 34 और 35 में भाजपा को 633 व 460 वोट मिले जबकि कांग्रेस को 133 व 209 वोट हासिल हुए।
    काजीपुरा व बोराज के बूथ नंबर 41, 42 व 43 पर भाजपा को 254, 348 तथा 686 वोट मिले वहीं कांग्रेस को 151, 50 तथा 118 वोट हासिल हुए।
    वैशाली नगर व जनता कॉलोनी के चार बूथ पर भाजपा काे 1666 वोट मिले वहीं कांग्रेस को 817 वोट हासिल हुए।


    2. अजमेर दक्षिण विधानसभा

    #बूथ जहां कांग्रेस को मिली बढ़त
    ट्राम्बे स्टेशन के चार बूथ पर कांग्रेस को 2016 वोट मिले वहीं भाजपा को यहां से 784 वोट हासिल हुए।
    पहाड़गंज के बूथ नंबर 16 व 18 से कांग्रेस को 562 व 469 वोट मिले वहीं भाजपा को 279 व 215 वोट हासिल हुए।
    फकीराखेड़ा के बूथ नंबर 38 व 40 पर कांग्रेस को 825 व 471 वाेट मिले वहीं भाजपा को 24 व 140 वोट हासिल हुए।
    रामगंज के चार बूथ पर कांग्रेस को 2549 वोट मिले वहीं भाजपा को 863 वोट हासिल हुए।
    जादूघर क्षेत्र के 86 व 89 बूथ पर कांग्रेस को 699 व 463 वोट हासिल हुए वहीं भाजपा को 210 व 145 वोट मिले।
    मेयो लिंक रोड व आनंद पहाड़ी क्षेत्र के बूथ नंबर 99 व 100 पर कांग्रेस को 506 व 639 वोट मिले वहीं भाजपा को 246 व 231 वोट हासिल हुए।
    धोलाभाटा क्षेत्र के चार बूथ पर कांग्रेस को 1793 वोट मिले वहीं भाजपा को 535 वोट हासिल हुए।
    प्रताप नगर भट्टा क्षेत्र के चार बूथ पर कांग्रेस को 2621 वोट हासिल हुए वहीं भाजपा को 597 वोट मिले।


    #जहां भाजपा को बढ़त
    अजय नगर के बूथ नंबर 29 से भाजपा को 311 वहीं कांग्रेस को 169 वोट मिले।
    अजय नगर के पार्वती उद्यान के बूथ नंबर 34 व 35 से भाजपा को 591 व 534 और कांग्रेस को 184 व 183 वोट हासिल हुए।
    गुलाबबाड़ी के राजाकोठी के बूथ नंबर 93 से भाजपा को 489 अौर कांग्रेस को 250 वोट मिले।
    परबतपुरा के तीन बूथ से भाजपा को 1167 वोट मिले वहीं कांग्रेस को 678 वोट हासिल हुए।
    माखुपुरा के बूथ नंबर 177 से भाजपा को 560 और कांग्रेस को 52 वोट मिले।


    3. दिग्गजों के बूथ पर यह रहे हालात
    अनिता भदेल ने दक्षिण विधानसभा के जिस बूथ नंबर 128 पर मतदान किया वहां भाजपा को 254 और कांग्रेस को 414 वोट मिले।
    हेमंत भाटी ने दक्षिण विधानसभा के जिस बूथ नंबर 119 पर मतदान किया वहां भाजपा को 118 और कांग्रेस को 759 वोट मिले।
    वासुदेव देवनानी ने उत्तर विधान सभा के बूथ नंबर 61 पर मतदान किया जहां भाजपा को 241 और कांग्रेस को 122 वोट मिले।
    डॉ श्रीगोपाल बाहेती ने उत्तर विधानसभा के बूथ नंबर 119 पर मतदान किया जहां भाजपा को 311 और कांग्रेस को 248 वोट मिले।

    4. रोचक
    दक्षिण क्षेत्र के बूथ नंबर कल्याणीपुरा गुलाबबाड़ी के बूथ नंबर 101 के मतदाताओं ने पूरा तौल कर दोनों पार्टियों को 411-411 वोट दिए।

    शहर में 3119 ने दबाया नोटा
    शहर में दोनों दलों की नीतियों से खफा 3119 मतदाताओं ने नोटा का उपयोग किया। इसमें उत्तर में 1718 और दक्षिण में 1401 वोट नोटा में गए।

    इनको मिले सबसे कम वोट
    उत्तर विधानसभा में सबसे कम 32 वोट निर्दलीय प्रत्याशी इंसाफ अली को मिले। वहीं, दक्षिण में निर्दलीय शहजाद अली को 40 वोट मिले।

  • सिंधी वोटों ने नहीं छोड़ा बीजेपी का साथ, कांग्रेस ने छिटके हुए SC वोट बैंक को किया हासिल
    +4और स्लाइड देखें
  • सिंधी वोटों ने नहीं छोड़ा बीजेपी का साथ, कांग्रेस ने छिटके हुए SC वोट बैंक को किया हासिल
    +4और स्लाइड देखें
  • सिंधी वोटों ने नहीं छोड़ा बीजेपी का साथ, कांग्रेस ने छिटके हुए SC वोट बैंक को किया हासिल
    +4और स्लाइड देखें
  • सिंधी वोटों ने नहीं छोड़ा बीजेपी का साथ, कांग्रेस ने छिटके हुए SC वोट बैंक को किया हासिल
    +4और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ajmer

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×