Hindi News »Rajasthan »Ajmer» Union Minister Uma Bharti Visit Pushkar Brahma Mandir

उमा भारती बोलीं- आध्यात्मिक यात्रा पर हूं , राजनीतिक सवाल का जवाब नहीं दूंगी

पुजारी के आग्रह पर उन्होंने मंदिर के गर्भ गृह में प्रवेश कर ब्रह्मा जी की परिक्रमा लगाई।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 23, 2018, 07:20 AM IST

  • उमा भारती बोलीं- आध्यात्मिक यात्रा पर हूं , राजनीतिक सवाल का जवाब नहीं दूंगी
    +1और स्लाइड देखें

    पुष्कर. केंद्रीय स्वच्छता एवं जल संरक्षण मंत्री उमा भारती ने सोमवार को जगत पिता ब्रह्मा मंदिर के दर्शन किए तथा गायों को फल व रोटी खिलाकर पुण्य कमाया। अल्प समय की पुष्कर यात्रा के दौरान पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने राजनीतिक सवाल का जवाब देने से साफ मना कर दिया कि वे रविवार को मेयो कॉलेज अजमेर में अध्ययन कर रही अपनी भतीजी से मिलने आई थी।

    -सोमवार को बसंत पंचमी के कारण वे ब्रह्मा जी व गायत्री के दर्शन करने पुष्कर आई हैं। उमा भारती ने कहा कि वे निजी व आध्यात्मिक यात्रा पर आई हैं, इसलिए राजनीति से संबंधित किसी भी प्रश्न का उत्तर नहीं दूंगी। इ

    - ससे पूर्व पुष्कर आगमन पर पालिकाध्यक्ष कमल पाठक ने उनकी भगवा शॉल ओढ़ा कर अगवानी की व अनिल काला सहित अनेक कार्यकर्ताओं ने माला पहना कर उनका स्वागत किया। ब्रह्मा मंदिर के पुजारी लक्ष्मीनिवास वशिष्ठ ने उनका अभिनंदन किया।


    आम श्रद्धालु की भांति किए ब्रह्मा जी के दर्शन

    - केंद्रीय मंत्री भारती ने पहले आम श्रद्धालु की भांति लाइन में लग कर ब्रह्मा जी के बाहर से दर्शन कर आरती उतारी। बाद में पुजारी के आग्रह पर उन्होंने मंदिर के गर्भ गृह में प्रवेश कर ब्रह्मा जी की परिक्रमा लगाई। इससे पहले मंदिर के प्रवेश द्वार के बाहर सूर्य देवता को अर्घ्य दिया।

  • उमा भारती बोलीं- आध्यात्मिक यात्रा पर हूं , राजनीतिक सवाल का जवाब नहीं दूंगी
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ajmer News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Union Minister Uma Bharti Visit Pushkar Brahma Mandir
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Ajmer

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×