• Home
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • राजस साफ्टवेयर से सांख्यिकी संबंधी काम होंगे सरल
--Advertisement--

राजस साफ्टवेयर से सांख्यिकी संबंधी काम होंगे सरल

राजस्व मंडल कार्यालय के सांख्यिकी शाखा की ओर से किए जा रहे कृषि एवं वर्षा संबंधी राज्य स्तरीय कार्य को राजस...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 03:10 AM IST
राजस्व मंडल कार्यालय के सांख्यिकी शाखा की ओर से किए जा रहे कृषि एवं वर्षा संबंधी राज्य स्तरीय कार्य को राजस सॉफ्टवेयर सरल एवं सुव्यवस्थित बनाएगा। इस सॉफ्टवेयर से जहां काम आसान होगा वहीं समय की भी बचत होगी। इस सॉफ्टवेयर पर काम करने वाले कार्मिकों को राज्य स्तरीय प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत राजस्व मंडल के संयुक्त निदेशक सांख्यिकी भंवरलाल की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम में प्रशिक्षण भी दिया गया।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में जिला कलेक्टर कार्यालयों के भू अभिलेख शाखा के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। कृषि सांख्यिकी के अंतर्गत जिंसवार, मिलान खसरा, पूरक मिलान खसरा, वर्षा समंक एवं प्रमुख फसलों के फसल कटते समय के भावों तथा कृषि अंक तालिका के संबंध में सॉफ्टवेयर के उपयोग पर प्रशिक्षण दिया गया।

भंवरलाल ने कृषि सांख्यिकी समंकों के संकलन में सॉफ्टवेयर की अहम भूमिका बताते हुए सभी जिला प्रतिनिधियों को तहसील स्तर पर आवश्यक प्रशिक्षण देने के निर्देश दिए। मंडल के उप निबंधक सुरेश सिंधी ने डिजिटलाइजेशन की शृंखला में राज्य स्तर पर कृषि सांख्यिकी समंकों के लिए निर्मित कृषि सांख्यिकी सॉफ्टवेयर की उपयोगिता पर प्रकाश डालते हुए मंडल की न्यायिक प्रक्रिया के तहत निर्मित सॉफ्टवेयर उल्लेख कर जन हित में इसके सार्थकता बताई। प्रशिक्षण में एनआईसी जयपुर के तकनीकी निदेशक अमित अग्रवाल, निदेशालय आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग के सहायक निदेशक घनश्याम दत्त अग्रवाल, सांख्यिकी अधिकारी महेश वर्मा, संतोष वर्मा व डिंपल गुर्जर तथा सहायक निदेशक राजस्व मंडल शैलचंद व्यास उपस्थित रहे।