Hindi News »Rajasthan »Ajmer» अंजुमन शेखजादगान शिक्षा पर 1.6 करोड़ रुपए व्यय करेगी

अंजुमन शेखजादगान शिक्षा पर 1.6 करोड़ रुपए व्यय करेगी

वित्तीय वर्ष 2018-19 का 8 करोड़ 10 लाख रुपए का बजट पारित सिटी रिपोर्टर|अजमेर अंजुमन शेखजादगान का बजट शनिवार को गश्ती...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 03:10 AM IST

वित्तीय वर्ष 2018-19 का 8 करोड़ 10 लाख रुपए का बजट पारित

सिटी रिपोर्टर|अजमेर

अंजुमन शेखजादगान का बजट शनिवार को गश्ती एजेंडे के माध्यम से पारित करवा दिया गया। वित्तीय वर्ष 2018-19 में अंजुमन की ओर से शिक्षा पर 1 करोड़ 60 लाख खर्च करने का लक्ष्य रखा गया है। जायरीन की सुविधा के लिए अन्य कार्य भी किए जाएंगे।

अंजुमन सचिव डॉ. अब्दुल माजिद चिश्ती ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए 8 करोड़ 10 लाख रुपए का बजट बनाया गया है। इसके लिए गश्ती एजेंडे के जरिये अंजुमन के 218 सदस्यों से राय ली गई। इनमें 120 सदस्यों ने बजट के पक्ष में अपनी राय दी। 20 सदस्यों ने बजट के विपक्ष में राय प्रकट की गई। एक सदस्य द्वारा निस्फ मंजूरी दी। चिश्ती ने बताया कि अंजुमन के अध्यक्ष अब्दुल जर्रार चिश्ती की अध्यक्षता में मैनेजमेंट कमेटी की बैठक शनिवार शाम यादगार गेस्ट हाउस में आयोजित की गई। जिसमें कार्यकारिणी के सभी सदस्यों ने बजट मंजूरी देते हुए जायरीन की सहुलियत के लिए कार्य करने पर सहमति व्यक्त की।

चिश्ती ने बताया कि शिक्षा को लेकर अंजुमन द्वारा छात्र-छात्राओं को बेहतर शिक्षा दिलाने के लिए छात्रवृत्ति के साथ ही विधवा महिलाओं के लिए 50 लाख, विकलांग व्यक्तियों के लिए 20 लाख तथा वृद्धजनों के लिए 70 लाख, अनाथ बालक-बालिकाओं के लिए 25 लाख तथा बीमार व्यक्तियों के लिए 25 लाख खर्च करने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने बताया कि वर्ष 2017-18 में 7 करोड़ 75 लाख का बजट पारित किया गया था। जिसमें 6 करोड़ 21 लाख 18 हजार 174 रुपए खर्च किए गए। बैठक में अंजुमन के उपाध्यक्ष आफताब मोहम्मद चिश्ती, सह सचिव शफीकुर्रहमान चिश्ती, कोषाध्यक्ष हाजी वसीमुद्दीन, ऑडिटर हाजी नसीरुद्दीन चिश्ती, सदस्य अब्दुल खलीक, अजहरुद्दीन चिश्ती, मन्नान चिश्ती, मोहम्मद हुसैन, अब्दुल कलाम आदि मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ajmer

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×