Hindi News »Rajasthan »Ajmer» हर्षोल्लास के साथ मनाया ईस्टर, गिरजाघरों में विशेष प्रार्थनाएं

हर्षोल्लास के साथ मनाया ईस्टर, गिरजाघरों में विशेष प्रार्थनाएं

चालीस दिन से चल रहे ‘लैण्ट सीजन’ जिसमें 40 दिनों के उपवास, पैशन वीक के मौन डे थर्सडे, गुड फ्राई डे के बाद रविवार को...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 03:15 AM IST

हर्षोल्लास के साथ मनाया ईस्टर, गिरजाघरों में विशेष प्रार्थनाएं
चालीस दिन से चल रहे ‘लैण्ट सीजन’ जिसमें 40 दिनों के उपवास, पैशन वीक के मौन डे थर्सडे, गुड फ्राई डे के बाद रविवार को ईस्टर (रजरक्शन) का मनाया गया। विश्व के इसाई समाज ने यीशु मसीही के मृत्यु पर विजय प्राप्त करते हुए तीसरे दिन पुनः जी उठना यानी पुनरुत्थान के दिन को ईस्टर के रूप में मनाया। अजमेर के सभी गिरजाघरों में विशेष प्रार्थना सभाएं हुई। समाज के संस्कार और धर्मावलंबियों ने बड़े उत्साह और प्रार्थना की और एक दूसरे को ईस्टर की बधाई प्रेषित की। समस्त चर्चों में रंगारंग कार्यक्रम व बपतिस्मा की रस्म की गई। लोगों ने अपने प्रियजनों की कब्रों पर फूल चढ़ाकर उन्हें याद किया। घरों में व्यंजन बना कर किया ईस्टर सेलिब्रेट किया।

राजस्थान मसीही मंच के प्रवक्ता बिपिन बैसिल ने बताया कि ईस्टर के पर्व अजमेर मे एक अनूठी विशेषता रखता क्योंकि यहां पर इसाई समाज के दस बड़े चर्चों का संगम है। अजमेर के इसाई धर्मावलंबियों ने रात 12 बजे से अजमेर के सेन्ट मेरिज चर्च, इमिक्युलेट कन्सेशन चर्च और सेवन डॉलर चर्च में ईस्टर मास आयोजित किया। यीशु मसीह के पुनरुत्थान का पैगाम देकर रजरक्शन डे यानी ईस्टर मनाया। रविवार सुबह 5 बजे सन राइज सर्विस यानी प्रभात फेरियां निकाली गई। घर घर जा कर देखो जिंदा हुआ देखो जिन्दा हुआ..., छोड़ के कब्र खाली जी उठा है मेरा मसीही... आदि गीत गाकर यीशु मसीही के जी उठने का संदेश गीतावलंबी गा कर दिया। उसके बाद विभिन्न चर्चों में आराधना व बच्चों के नाम संस्कार व बपतिस्मा हुए।

अजमेर कि विभिन्न चर्चों जिसमे रोबसन मेमोरियल कैथेड्रिल, माउंट कार्मेल चर्च, सेंटेनरी मैथोडिस्ट चर्च, सेन्ट ल्यूक चर्च, सेन्ट जोन्स चर्च, शकीना फैलोशिप, सेंट जोजफ चर्च परबतपुरा में प्रात कालीन अराधना हुई। जहां पुरोहित गण ने यीशु मसीह के पुनरुत्थान पर बाइबल संदेश प्रचारित किए। इस मौके पर नवजातों के बपतिस्मे की रस्म संस्कारित की गई।

समस्त चर्चों मे भारत के सौहार्द व भाईचारे व विश्व शां‍ति के लिए प्रार्थना बिशप पायस डिसूजा ने संपन्न कराकर यीशु मसीह के द्वारा मानव जाति के पापों के लिए प्राण आहुति करने व प्रेम के संदेश पर प्रकाश डाला। बैसिल ने बताया कि ईस्टर पर्व पर संडे स्कूलों के छात्रों ने कई मनमोहक प्रस्तुतियां और रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए। माउंट कार्मेल चर्च में रेव्ह. एनोश व कंचन ने कोरियोग्राफी ही इज रीजन... की प्रस्तुति दी, राष्ट्रीय इसाई महासंघ के अजमेर चैप्टर ने पत्र लिखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ईस्टर पर्व का बधाई संदेश प्रेषित किया और अजमेर की कच्ची बस्तियों में बच्चों को नए वस्त्र व खिलौने बांटे तथा कैम्प लगा शरबत वितरित किया।

शहर के गिरिजाघरों में बड़ी संख्या में लोग प्रार्थना करने पहुंचे। लोगों ने प्रियजनों की कब्रों पर फूल चढ़ाकर याद किया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ajmer

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×