• Home
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • जनसमर्थन के लिए निकाली विशाल वाहन रैली
--Advertisement--

जनसमर्थन के लिए निकाली विशाल वाहन रैली

रैली का अगला सिरा गंज में था और पिछला सिरा दरगाह के मुख्य द्वार के सामने। मेडिकल स्टोर, अस्पताल बंद से मुक्त...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:20 AM IST
रैली का अगला सिरा गंज में था और पिछला सिरा दरगाह के मुख्य द्वार के सामने।

मेडिकल स्टोर, अस्पताल बंद से मुक्त रहेंगे

पेट्रोल पंप, ऑटो, सिटी बसें बंद रहेंगी, मंडी में कारोबार नहीं होगा

परीक्षाएं चल रही हैं, इसलिए स्कूल भी बंद से होंगे मुक्त

गंज से गुजरती वाहन रैली

आज अजमेर बंद

सिटी रिपोर्टर |अजमेर

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर केंद्र सरकार की चुप्पी से नाराज आरक्षित वर्ग की ओर से रविवार को अजमेर बंद का आह्वान किया गया है। बंद को अनेक संगठनों ने समर्थन दिया। व्यापारिक महासंघ ने दोपहर 1 बजे तक कारोबार बंद रखने का निर्णय किया है। पेट्रोल पंप दोपहर 2 बजे तक बंद रहेंगे। ऑटो और सिटी बसें भी नहीं चलेंगे।

बोर्ड ऑफिस कर्मचारी एसोसिएशन, पेट्रोल पंप यूनियन, एलपीजी गैस यूनियन, स्टेशन ऑटो यूनियन, सिटी बस यूनियन ने भी अजमेर बंद को समर्थन दिया है। निगम के सफाईकर्मी भी छुट्टी पर रहेंगे। परीक्षा के कारण स्कूलों को बंद नहीं कराया जाएगा। मेडिकल स्टोर और अस्पतालों को बंद से मुक्त रखा गया है। इधर, बंद को लेकर जनसमर्थन के लिए रविवार को संघर्ष समिति के बैनरतले रैली निकाली गई। समिति सदस्य देशराज मेहरा ने बताया कि राजकीय महाविद्यालय से जनसमर्थन रैली स्टेशन रोड, केसरगंज, डिग्गी बाजार, पड़ाव, कवंडसपुरा, क्लॉक टॉवर, मदार गेट, नला बाजार, दरगाह बाजार, देहली गेट, फव्वारा चौराहा, आगरा गेट, नया बाजार, चूड़ी बाजार, गांधी भवन चौराहा, कचहरी रोड, बजरंगगढ़ चौराहा, डॉ. अंबेडकर सर्किल तक वाहन रैली निकाली गई। संरक्षक मंडल डॉ. राजकुमार जयपाल, हेमंत भाटी, कमल बाकोलिया, गोपालदास, छीतरमल टेपण, विजय नागौरा, श्रवण टोनी, हीरालाल जीनगर के नेतृत्व में आरक्षित वर्ग के लोग इस रैली में शामिल हुए।

जिलेभर में तैनात रहेगी पुलिस

अजमेर बंद को लेकर जिला पुलिस आैर खुफिया एजेंसियां सतर्क हो गई हैं। जिलेभर में होने वाली गतिविधियों पर कड़ी निगरानी रखी जाएगी। एसपी राजेंद्र सिंह ने सभी थाना प्रभारियों को अपने-अपने क्षेत्र में बंद के दौरान नियमित गश्त करने के निर्देश दिए हैं। पुलिस के वीडियोग्राफर्स भी बंद के दौरान प्रदर्शन की लाइव रिकार्डिंग करेंगे।

आरक्षित वर्ग की ओर से सोमवार को बंद का कई संगठनों ने समर्थन नहीं किया है। अजमेर जिला वैश्य महासम्मेलन ने विज्ञप्ति जारी कर व्यापारियों से प्रतिष्ठान खुले रखने की अपील की है। साथ ही पुलिस प्रशासन को भी पत्र लिखकर सुरक्षा प्रदान करने एवं सहयोग का आग्रह किया है। अध्यक्ष रमेश तापड़िया की अध्यक्षता में आहूत बैठक में अजमेर व्यापारिक संगठन ने बंद का विरोध किया। कालीचरण खंडेलवाल, महामंत्री उमेश गर्ग ने भी बंद का विरोध करते हुए प्रतिष्ठान खुले रखने की अपील की है। इसी प्रकार नया बाजार व्यापारिक संघ के अध्यक्ष कमल किशोर बंसल, पुरानी मंडी व्यापारिक एसोसिएशन के अध्यक्ष ललित अग्रवाल, मूंदड़ी मोहल्ला व्यापारिक संघ के अध्यक्ष अशोक मुदगल, अहाता मोहल्ला खारी कुई व्यापारिक एसोसिएशन के अध्यक्ष अश्विनी कुमार शास्त्री, मेहता मार्केट व्यापारिक संघ के अध्यक्ष भगवानदास ने भी बंद का समर्थन नहीं देने का निर्णय करते हुए सभी व्यापारियों से प्रतिष्ठान खुले रखने की अपील की है तथा पुलिस प्रशासन से सुरक्षा का आग्रह किया है। कायस्थ सभा से एडवोकेट शैलेंद्र माथुर व एडवोकेट अनिल नाग ने बंद का विरोध किया है। उन्होंने व्यापारिक संगठनों का समर्थन करते हुए प्रतिष्ठान खुले रखने का आह्वान किया है।

कई संगठनों का बंद को समर्थन नहीं

पूर्व विधायक डॉ.राजकुमार जयपाल, पूर्व मेयर कमल बाकोलिया व युवा नेता हेमंत भाटी रैली की अगुवाई करते हुए।

फूल बरसाकर स्वागत किया

रैली का कई जगह फूलों से स्वागत किया गया। रैगर समाज ने डिग्गी बाजार व वाल्मीकि समाज ने केसरगंज में, कवंडसपुरा में धानका समाज ने, नला बाजार में जीनगर समाज ने, दरगाह के मुख्य द्वार पर मुस्लिम समाज ने, देहलीगेट पर खटीक समाज ने, गंज में जाटव समाज ने, कचहरी रोड पर धोबी समाज ने, राजपूताना चौराहा पर मेघवंश समाज ने, मार्टिंडल ब्रिज पर कोली समाज ने स्वागत किया।

70 टोलियों का गठन

पार्षदों व सामाजिक संस्थाओं के नेतृत्व में बाजारों को बंद कराने के लिए लगभग 70 टोलियों का गठन किया गया है, जो सभी अलग-अलग क्षेत्रों में जाकर बंद को सफल बनाएंगे। बंद को नियंत्रित करने के लिए शहर में दो नियंत्रण कक्ष बनाए गये हैं। एक कक्ष महात्मा ज्योतिबा फुले चौराहा व दूसरा प्रकाश रोड पर बनाया गया है। रैली में सफाई कर्मचारी यूनियन अध्यक्ष नौरतमल डेंडवाल, पार्षद सुनील केन, कैलाश कोमल, चंद्रशेखर बालोटिया, चंदनसिंह, पिंटू बोहरा, कमल बैरवा, रेखा पिंगोलिया, द्रौपदी देवी, ललित वर्मा, पूर्व पार्षद नरेश सत्यावना, जितेंद्र कुमार खेतावत, कीर्तन खेतावत, मनोज जाजोरिया, प्रेमपाल गोस्वामी, अशोक दायमा, नीरज जाग्रत, राजेश लुहाड़िया, कशिश बांयला, याशिर चिश्ती, नरेश सत्यावना, अरविंद धौलखेड़िया, अनिल गोयर, जीवणराम मेघवंशी, रेणु मेघवंशी सहित बड़ी संख्या में आरक्षित समाज व समर्थकों ने भाग लिया।