• Home
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • प्लाट काटकर बेचने के मामले में छह लोगों को नोटिस जारी
--Advertisement--

प्लाट काटकर बेचने के मामले में छह लोगों को नोटिस जारी

अजय नगर स्थित कांच के मंदिर के पास बनी सेठ जीवत राम कॉलोनी की दीवार तोड़कर की गई प्लाटिंग के मामले में नगर निगम ने...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:20 AM IST
अजय नगर स्थित कांच के मंदिर के पास बनी सेठ जीवत राम कॉलोनी की दीवार तोड़कर की गई प्लाटिंग के मामले में नगर निगम ने सात लोगों को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। नगर निगम के उपायुक्त ने नगर पालिका एक्ट की धारा 182 के तहत नोटिस जारी किए हैं। इससे पहले क्षेत्रीय निवासियों की शिकायत पर नगर निगम ने सहायक अभियंता के जरिये प्रांरभिक जांच करवाई थी। इस जांच में निगम प्रशासन ने माना था कि प्लाट अवैध रूप से काटे गए हैं। इसके चलते ही अब प्लाट काटने वाले व अवैध रूप से निर्माण करने वालों को नोटिस जारी किए गए हैं।

उपायुक्त की ओर से राजकुमार कृपलानी सहित सुरेश कृपलानी, शिव कुमार, प्रदीप मंघानी, ईश्वर मंघानी और ज्योति मंघानी को पालिका एक्ट की धारा 182 के तहत नोटिस जारी कर जवाब तलब किया गया है। जारी नोटिस में कहा गया है कि अजयनगर स्थित कांच के मंदिर के पीछे अवैध रूप से बिना सक्षम स्वीकृति और ले आउट पास करवाए बगैर कॉलोनी काट दी गई है। यही नहीं सेठ जीवत राम कालोनी की दीवार तोड़कर अतिक्रमण भी किया गया है। जिन लोगों को नोटिस भेजे गए हैं उनसे कहा गया है कि अगर ले आउट पास करवाया है तो रिकार्ड सहित पेश करें। इससे पहले स्थानीय निवासी जगदीश, राजकुमार व अन्य की ओर से दी गई शिकायत पर निगम उपायुक्त ने मामले में जांच के आदेश दिए थे। जिस पर निगम के सहायक अभियंता ने मौका निरीक्षण किया था और इस संबंध में आला अधिकारियों को रिपोर्ट सौंप दी थी। इस रिपोर्ट में भू कारोबारियों द्वारा की जा रही कार्रवाई को नियमों के विपरीत बताया गया जिसके बाद निगम ने धारा 182 के तहत नोटिस दिए हैं।

अब चेते...

निगम ने माना-जीवत राम कॉलोनी की दीवार तोड़कर अवैध प्लाटिंग हुई

लोगों की यह है शिकायत

निगम को की गई शिकायत में कहा गया था कि जीवत राम कॉलोनी के लोगों के लिए करीब तीन बीघा सार्वजनिक जमीन पर पार्क बना हुआ है जिसका उपयोग स्थानीय निवासी सालों से करते आ रहे हैं। इस जमीन को राजकुमार कृपलानी व अन्य ने अवैध रूप से भू कारोबारियों को बेच दिया। भू कारोबारियों ने क्षेत्र में दहशत का माहौल कायम किया हुआ है और कॉलोनी की दीवार तोड़कर जमीन पर प्लाटिंग कर रहे हैं। एडीए व नगर निगम की अनुमति लिए बगैर और बिना ले आउट पास किए अवैध रूप से प्लॉटों का बेचान शुरू कर दिया है व निर्माण भी करने का प्रयास किया जा रहा है। इससे पहले इलाके के लोगों ने राज्य के गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया और पुलिस महानिदेशक को संपूर्ण घटनाक्रम से अवगत कराते हुए कार्रवाई की मांग की थी। उनका यह भी कहना है कि कई साल पहले गेटेड कॉलोनी बनाई गई थी जिसमें आवाजाही के लिए मुख्य गेट सोमलपुर रोड पर खुलता है। लेकिन क्षेत्र के कुछ भू कारोबारियों ने इस कॉलोनी की चारदीवारी को क्षतिग्रस्त कर अवैध कालोनी के रास्ते को इसमें जोड़ दिया है।