Hindi News »Rajasthan »Ajmer» पूर्वोत्तर के नेता बोले- सीपी की वजह से हारी कांग्रेस

पूर्वोत्तर के नेता बोले- सीपी की वजह से हारी कांग्रेस

पूर्वोत्तर के तीन राज्यों में कांग्रेस की हार पर रार बढ़ गई है। अधिकांश बड़े नेताओं ने कांग्रेस के राष्ट्रीय...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 04, 2018, 07:15 AM IST

पूर्वोत्तर के नेता बोले- सीपी की वजह से हारी कांग्रेस
पूर्वोत्तर के तीन राज्यों में कांग्रेस की हार पर रार बढ़ गई है। अधिकांश बड़े नेताओं ने कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और पूर्वोत्तर के कांग्रेस प्रभारी और राजस्थान के वरिष्ठ नेता सीपी जोशी को हार के लिए जिम्मेदार माना है। मेघालय में हालांकि वहां कांग्रेस टक्कर में हैं, लेकिन त्रिपुरा और नागालैंड में करारी हार के लिए सीपी जोशी पर हमले तेज हो गए हैं। नागालैंड कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने तो सीपी जोशी को नेगेटिव माइंड सेट का नेता बताते हुए यहां तक कह दिया है कि इनको जन भावनाओं और संवेदना की समझ तक नहीं है। इसी कारण उन्होंने कांग्रेस के गढ़ माने जाने वाले स्टेट में स्टार प्रचारकों को प्रचार करने तक से रोक दिया। कुछ ऐसे ही हमले त्रिपुरा और मेघालय में हो रहे हैं। गौरतलब है कि जोशी पिछले साल जून में आरसीए के अध्यक्ष चुने जाने के बाद से राजस्थान की राजनीति में भी बहुत कम सक्रिय है। हाल ही मांडलगढ़ विधानसभा और अलवर तथा अजमेर लोकसभा सीट पर उपचुनावों के दौरान भी जोशी की बेरुखी की कुछ जगह चर्चाएं रही।

ढाई साल से जोशी न खुद आए न राहुल को आने दिया : थेरी

नागालैंड कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष केवे खापे थेरी ने कांग्रेस की करारी हार का ठीकरा जोशी पर फोड़ा है। केवल नागालैंड ही नहीं पूरे पूर्वोत्तर में जोशी को हार का जिम्मेदार बता डाला। थेरी ने कहा कि जोशी ने सुनियोजित ढंग से न केवल नागालैंड में बल्कि पूरे पूर्वोत्तर में कांग्रेस को समाप्ति के कगार पर पहुंचा कर रख दिया है। पिछले दो साल से अधिक समय से न खुद नागालैंड आए और न राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को आने दिया। उन्होंने गंभीर आरोप लगाया है कि जोशी की नेगेटिव माइंड सेट के कारण स्टार प्रचार तो रोके ही गए, बल्कि पार्टी को चुनाव लड़ने के लिए फंड तक नहीं दिया गया। नागालैंड का असर मेघालय में भी हुआ और वहां अच्छी कंडीशन में होने के बावजूद पार्टी सत्ता से बाहर रहने की स्थिति में पहुंच गई है।

त्रिपुरा के नेताओं ने की थी शिकायत : त्रिपुरा में तो कांग्रेस के नेताओं ने जोशी की शिकायत तक कर डाली। उन्होंने केंद्रीय नेतृत्व को लिखा है कि सी पी जोशी का पूर्वोत्तर में कोई रुचि नहीं है। न वे पार्टी को मजबूत करना चाहते हैं न पार्टी की जीत हार से उनको कोई सरोकार है। उनके कारण कांग्रेस पार्टी बिखर रही है। इस कड़ी में त्रिपुरा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बिराजीत सिन्हा ने भी कई बयान दिए।

नागालैंड में चर्च के लिए बीजेपी ने 70 करोड़ दिए, इसलिए हवा बदली : जोशी

पूर्वोत्तर प्रभारी सी पी जोशी ने नागालैंड, त्रिपुरा और मेघालय में रुझानों के बदलने की वजह बीजेपी का इसाई चर्च को सहयोग के लिए खेला कार्ड बताया है। जोशी ने आरोप लगाया है कि चुनाव के समय बीजेपी ने मेघालय में चर्च के लिए 70 करोड़ रुपए आवंटित किए। जिसकी राज्य सरकार ने मांग तक नहीं की थी। मेघालय के चर्च का प्रभाव चुनाव वाले तीन राज्यों की 70 फीसदी जनता पर है।

जोशी के कारण पार्टी नेता छोड़ गए कांग्रेस : आलोक : नागालैंड के कांग्रेस स्पोक्स पर्सन आलोक शर्मा ने हार के बाद जोशी पर हमला बोला है। उन्होंने आरोप लगाया कि जोशी ही हार के एक मात्र कारण है। उनके कारण पार्टी के नेता और कार्यकर्ता कांग्रेस छोड़ चुनाव से पहले दूसरे दलों में शामिल हो गए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ajmer News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: पूर्वोत्तर के नेता बोले- सीपी की वजह से हारी कांग्रेस
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Ajmer

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×