Hindi News »Rajasthan »Ajmer» Daler Mehndi In Sacred Pushkar Festival

दी सेक्रेड पुष्कर उत्सव का रंगारंग आगाज आज से, दलेर मेहंदी भी होंगे शामिल

ब्रह्मा की नगरी पुष्कर में शनिवार से शुरू होने जा रहा दो दिवसीय भव्य आयोजन दी-सेक्रेड पुष्कर सैलानियों के साथ स्थानीय लोगों को रोमांचित करेगा।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 10, 2016, 05:21 AM IST

  • अजमेर/पुष्कर.ब्रह्मा की नगरी पुष्कर में शनिवार से शुरू होने जा रहा दो दिवसीय भव्य आयोजन दी-सेक्रेड पुष्कर सैलानियों के साथ स्थानीय लोगों को रोमांचित करेगा। दोनों दिन सुबह से रात तक एक से बढ़कर एक रंगारंग संगीतमय व योगमय आयोजन होंगे, जिन्हें देख हमारी कला की जीवंतता साक्षात होगी। टीम वर्क आर्ट्स ने इस कार्यक्रम को इस तरह से डिजाइन किया है, जिसे देख देशी-विदेशी पर्यटक हमारी समृद्ध कला व संस्कृति की बारीकी से रूबरू हो सकेंगे।

    पुष्कर के जयपुर घाट पर आयोजित दो दिवसीय दी सेक्रेड पुष्कर उत्सव के लिए आयोजन स्थल पर भव्य मंच बनाया गया है, घाट को रंग-बिरंगी लाइटों की रोशनी से सजाया गया है। पहले दिन शनिवार सुबह ख्याति प्राप्त गायिका सुकृति सैन मनमोहक भजनों की प्रस्तुति देंगी, वहीं शाम को प्रसिद्ध सूफी गायक कलाकार दलेर मेहंदी सुर-संगीत की सरिता बहाएंगे। महोत्सव में सीएम वसुंधरा राजे का आना प्रस्तावित है। श्री सीमेंट, दैनिक भास्कर, पर्यटन विभाग व पुष्कर नगरपालिका के संयुक्त सहयोग से आयोजित होने वाले इस अनूठे उत्सव को लेकर जिला, पुलिस एवं नगरपालिका प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है।
    विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी व्यवस्थाओं को अंतिम रूप देने में जुटे हुए हैं। संसदीय सचिव सुरेश सिंह रावत ने बताया कि सीएम राजे की पहल व निर्देशन में यह उत्सव आयोजित किया जा रहा है। दो दिन चलने वाले संगीत, योग व ध्यान पर आधारित इस उत्सव के दौरान देश-विदेश के कई ख्याति प्राप्त कलाकार प्रस्तुतियां देंगे। महोत्सव का शुभारंभ शनिवार की सुबह 7 बजे जाकोजे रिपोचे के तिब्बतियन हार्ट योगा के साथ होगा।
    रोमांचित कर कण-कण में करेंगे ऊर्जा का संचार...यह हैं आज के कार्यक्रम
    - सुबह 7 से 8.30 - तिब्बतियन हार्ट योग-जाकोजे रिपौचे द्वारा
    - 9 से 11 बजे - सुकृति सैन के भजन व हरप्रीत कौर सूफी एवं बुल्लेशाह की प्रस्तुति देगी
    - 11.30 से 12.30 - शेफ राजीव पायल के सानिध्य में आर्गनिक कुकिंग सत्र
    - दोपहर 3 से 5.30 - हेरिटेज वॉक
    - शाम 5.30 - सरोवर के घाटों पर दीपदान व महाआरती
    - 6 से 10 बजे तक संगीत संध्या जिसमें पंडित भवानी शंकर एवं साउंड ऑफ एशिया का ताल वाद्य, शबनम विरमानी का भक्ति, सूफी व बाउल काव्य, दक्षिण अफ्रीका के एकापेला ग्रुप का द सोएल कार्यक्रम। दलेर मेहंदी का सूफी संगीत की प्रस्तुति देंगे।
    रोशन होंगे 10 हजार चिराग, जगमगाएंगे घाट :पालिकाध्यक्ष कमल पाठक ने बताया कि उत्सव के पहले दिन शनिवार शाम को विभिन्न स्कूलों के सहयोग से नगर पालिका द्वारा पुष्कर सरोवर के सभी 52 घाटों पर दीपदान किया जाएगा। आकर्षक रंगोलियां सजाई जाएंगी। 52 घाटों पर करीब 10 हजार दीपक रोशन होंगे, साथ ही इस दौरान सरोवर की प्रमुख घाटों पर महाआरती भी की जाएगी। आकर्षक दीपदान व रंगोलियां सजाने वाली स्कूलों को नगद राशि देकर पुरस्कृत किया जाएगा।
    प्रशासन अलर्ट, आला कमानों ने जांची सुरक्षा व्यवस्था :उत्सव में सीएम वसुंधरा राजे के प्रस्तावित कार्यक्रम के मद्देनजर जिला प्रशासन अलर्ट है। आईजी मालिनी अग्रवाल आैर एसपी डॉ. नितिन दीप ब्लग्गन के साथ अन्य अधिकारियों ने जयपुर घाट पर सुरक्षा व्यवस्था सहित हेलिपैड का निरीक्षण किया। यातायात व पार्किंग व्यवस्था के संबंध में अधीनस्थ अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।
    यह हैं 11 दिसंबर के कार्यक्रम
    - सुबह 7 से 9 - गेशे दोरजी दामदुल की ओर से ध्यान एवं द सोएल द्वारा साउंड हीलिंग
    - 9.30 से 11.30 - शशांक सुब्रह्मण्यम का बांसुरी वादन एवं पार्वती बाउल का बाउल गायिकी
    - 11.30 से 12.30 - शेफ राजीव पायल के सानिध्य में आर्गेनिक कुकिंग सत्र
    - दोपहर 3 से 5.30 - हेरिटेज वॉक
    - शाम 6 से 10 बजे तक - ब्यामबजरगल गोमबोदोर्ज का एकल गायिका व मंगोलिया
    - भुंगर खान व ग्रुप राजस्थानी लोक संगीत
    - गुंडेचा बंधु का शास्त्रीय संगीत
    - वडाली बंधु का भक्तिमय पंजाबी लोक संगीत गूंजेगा।
    आम नागरिकों का वराह घाट से होगा प्रवेश
    द सेक्रेड पुष्कर फेस्टिवल के दौरान शनिवार शाम को आयोजित होने वाली दलेर मेहंदी व अन्य कलाकारों की संगीत संध्या के लिए जिला एवं पुलिस प्रशासन ने विशेष व्यवस्था की है। थानाधिकारी दुलीचंद ने बताया कि शनिवार की शाम को कार्यक्रम में भाग लेने वाले आम नागरिकों के लिये वराह घाट से प्रवेश की व्यवस्था की गई है। वीआईपी नये रंगजी मंदिर के सामने से बाईजी का मंदिर होते हुए जयपुर घाट तक पहुंच सकेंगे। इस मार्ग व पुलिया के पीछे से आम नागरिकों का प्रवेश निषेध रहेगा।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ajmer

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×