अजमेर / भीख मंगवाने को दरगाह परिसर से तीन साल की बच्ची का अपहरण, गुजरात में पकड़ा गया आरोपी



सीसीटीवी में नजर आया अपहरणकर्ता और अपहृत बच्ची सीसीटीवी में नजर आया अपहरणकर्ता और अपहृत बच्ची
अजमेर पुलिस की टीम, जिसने अपहरणकर्ता को गिरफ्तार किया अजमेर पुलिस की टीम, जिसने अपहरणकर्ता को गिरफ्तार किया
दरगाह थाने में गिरफ्तार आरोपी मोहम्मद सागर दरगाह थाने में गिरफ्तार आरोपी मोहम्मद सागर
X
सीसीटीवी में नजर आया अपहरणकर्ता और अपहृत बच्चीसीसीटीवी में नजर आया अपहरणकर्ता और अपहृत बच्ची
अजमेर पुलिस की टीम, जिसने अपहरणकर्ता को गिरफ्तार कियाअजमेर पुलिस की टीम, जिसने अपहरणकर्ता को गिरफ्तार किया
दरगाह थाने में गिरफ्तार आरोपी मोहम्मद सागरदरगाह थाने में गिरफ्तार आरोपी मोहम्मद सागर

  • सीसीटीवी फुटेज की मदद से पुलिस ने की त्वरित कार्रवाई 
  • रेलवे प्रशासन, जीआरपी, आरपीएफ व गुजरात पुलिस के सहयोग से पकड़ा

Dainik Bhaskar

Jun 02, 2019, 04:57 PM IST

अजमेर. शहर के ख्वाजा दरगाह परिसर से 29 मई को शाम 7 बजे तीन साल की बच्ची का अपहरण करने वाले आरोपी को पुलिस ने महज 36 घंटे में गुजरात के गांधी नगर से गिरफ्तार कर अपह्त बच्ची को सकुशल बरामद कर लिया। आरोपी व उसके चंगुल से छुड़ाई गई बच्ची को लेकर पुलिस टीम रविवार तड़के अजमेर पहुंची। प्रारंभिक पूछताछ में आरोपी ने भीख मंगवाने के ईरादे से बच्ची का अपहरण कर भागने की जानकारी दी है। यह कार्रवाई अजमेर एसपी कुंवर राष्ट्रदीप सिंह के निर्देशन में की गई।

अजमेर रेलवे स्टेशन से बरेली भुज ट्रेन की पिछली कोच में बैठता नजर आया, तब सीसीटीवी फुटेज जारी कर मांगी मदद

  1. एसपी कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी मोहम्मद सागर चिश्ती है। वह गांव राई खादीगी पुलिस थाना गाजल जिला मालदा, पश्चिम बंगाल हाल पीएसएल कारगो सेक्टर-2 गांधीधाम गुजरात में रहता है। इस संबंध में खुरजा, बुलन्दशहर (यूपी) निवासी एक महिला ने दरगाह थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि वह 29 मई को अपनी 14 वर्ष व 3 वर्ष की दो बेटियों तथा 8 वर्षीय एक बेटे के साथ शाम 4 बजे अजमेर स्थित ख्वाजा की दरगाह में हाजरी लगाने आयी थी।

  2. वह अपने बच्चों के साथ जन्नति दरवाजा के सामने बैठी थी। तीनों बच्चे खेल रहे थे। तभी शाम करीब 7 बजे रोजा इफ्तारी के समय बच्चों को सम्भाला। तब 3 साल की छोटी बेटी नहीं मिली। तब परिवादिया ने दरगाह में मौजूद लोगों की सहायता से दरगाह में गुम हुई बेटी की तलाश शुरु की। मामला अजमेर एसपी कुंवर राष्ट्रदीप तक पहुंचा। तब एसपी के निर्देशन में एएसपी सरिता सिंह, दरगाह थानाप्रभारी हेमराज चौधरी व वृत्ताधिकारी सुरेंद्र सिंह बच्ची की तलाश में जुटे।

  3. बच्ची की तलाश में दरगाह थाना स्टॉफ के अलावा गंज थाना व क्लाक टॉवर थाना पुलिस सहित सात टीमें गठित कर दी। पुलिस ने रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, प्रमुख बाजार और दरगाह परिसर और आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगालने शुरु किए। जिसमें सफेद शर्ट, नीली जीन्स व सफेद मुस्लिम टोपी सिर पर लगाये एक लड़का नजर आया। जिसकी गोद में तीन वर्षीया लाल रंग का टॉपर पहने बच्ची नजर आई। वह दरगाह से शाम 7.05 पीएम पर शाहजानी मस्जिद से महफिल खाना गेट पहुंचा।

  4. इसके बाद मोहम्मद सागर बच्ची को गोद में लिए हुए मुख्य बाजार से होकर शाम 7:22 बजे क्लाक टावर के पास से रेल्वे स्टेशन के अंदर जाते हुए नजर आया। वहां वह प्लेटफॉर्म नंबर 2 पर नजर खड़ा नजर आया। इसके बाद ओझल हो गया। अगले दिन 30 मई को आरपीएफ की स्पेशल टीम को मोहम्मद सागर रात 9:05 बजे भुज जाने वाली ट्रेन नं 14321 बरेली भुज में 2 नम्बर प्लेटफार्म से इंजन के पीछे प्रथम कोच में बैठता दिखाई दिया।

  5. तब अजमेर पुलिस ने मारवाड़ जंक्शन, आबू रोड, पालनपुर, डिसा, भीलडी, रगनपुर, संतलपुर, बांजू, गांधीधाम, आदिपुर, अजार व भुज में जीआरपी, आरपीएफ को फुटेज भेजे। वहीं, एक और पुलिस टीम को भुज के लिये रवाना किया गया। तब अजमेर पुलिस ने रेलवे प्रशासन, आरपीएफ व जीआरपी की टीम की मदद तथा गुजरात पुलिस के सहयोग से अपहरणकर्ता मोहम्मद सागर गांधीधाम, गुजरात पहुंचने पर पकड़ा गया। उसके चंगुल से बच्ची को मुक्त करवाया गया।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना