पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राजस्व मंडल की सर्किट बैंच में नहीं रखी जाएंगी फाइलें

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
राजस्व मंडल की जयपुर सर्किट बेंच की सभी फाइलें अजमेर में ही रखी जाएंगी। मंडल की पांच सदस्यीय समिति ने इस बाबत महत्वपूर्ण निर्णय पारित किया है।

जयपुर में सिंगल व डिवीजन बैंच की फाइलें वहीं रखे जाने पर रेवेन्यू बार एसोसिएशन द्वारा लगातार विरोध किया जा रहा था क्योंकि इसे अजमेर के वकील अपरोक्ष रूप से मंडल के विखंडन की शुरुआत मान रहे थे।

राजस्व मंडल अध्यक्ष वी. श्रीनिवास की अध्यक्षता में गठित इस समिति में शामिल मंडल सदस्य मोडूदान देथा, महावीर सिंह, राजेंद्र कुमार तथा धूकल राम कसवाॅ की मौजूदगी में गुरुवार को आयोजित बैठक में फाइलें अजमेर मुख्यालय पर ही रखने का निर्णय किया। यह निर्णय सरवाड़ के अरवड़ निवासी याचिकाकर्ता ऋषि राज राठौड़ की रिट पिटिशन के बाद विधिवत रूप से समिति द्वारा विचार-विमर्श कर दिया गया। निर्णय राजस्थान राजस्व अधिनियम 1956 की धारा 6 एवं राजस्व कोर्ट मेन्युअल के नियम 36 राजस्व कोर्ट मेन्युअल पार्ट 1 अध्याय 10 एवं तेरह के प्रावधानों के आधार पर किया गया।

नियमानुसार राजस्व वादों का मुख्यालय अजमेर राजस्व मंडल निर्धारित है। राज्य सरकार की अधिसूचना अथवा नियमों में परिवर्तन होने के पश्चात ही पत्रावलियों को सर्किट बेंच में रखा जाना संभव है। इस आधार पर राजस्व मंडल द्वारा गठित समिति में सिंगल बैंच जयपुर की पत्रावलियां जयपुर मुख्यालय पर नहीं रखकर अजमेर राजस्व मंडल मुख्यालय पर ही रखे जाने का निर्णय किया गया।

साथ ही डिवीजन बैंच की जो फाइलें जयपुर में रखी हुई हैं, उन्हें भी राजस्व मंडल में ही पूर्वानुसार रखा जाएगा।

गौरतलब है कि सर्किट बेंचों का अजमेर के वकील विरोध करते रहे हैं। सर्किट बैंच में फाइलें जाती है लेकिन सुनवाई के बाद वापस अजमेर मुख्यालय पर ही रखी जाती है। कुछ साल पहले जयपुर सर्किट बैंच में जाने वाली फाइलों को वहीं रखकर नई परंपरा शुरू कर दी गई। इसका अजमेर के वकीलों ने घोर विरोध करते हुए हड़ताल तक की थी। मंडल के इस निर्णय से अजमेर के वकीलों ने राहत व खुशी है।

खबरें और भी हैं...