• Home
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • अवैध तरीके से खुलेआम चल रहा पानी बेचने का खेल
--Advertisement--

अवैध तरीके से खुलेआम चल रहा पानी बेचने का खेल

शहर में पानी की की लगातार बढ़ रही किल्लत के कारण पानी का अवैध व्यापार भी जमकर होने लगा है। इससे शहर का जल स्तर गिरने...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 04:10 AM IST
शहर में पानी की की लगातार बढ़ रही किल्लत के कारण पानी का अवैध व्यापार भी जमकर होने लगा है। इससे शहर का जल स्तर गिरने लगा है। हैंडपंपों और बोरिंग का जल स्तर नीचे जाने से कई लोगों को परेशान भी होना पड़ रहा है। पंचशील नगर में विजय सरिता के सामने दो जगहों पर खुलकर जमीन से पानी का दोहन कर उन्हें बेचने का काम किया जा रहा है। यहां सुबह से लेकर शाम तक पानी के टैंकर भरे जाते हैं। इसके अलावा माकड़वाली रोड, पुष्कर रोड, कोटड़ा सहित अन्य इलाकों में भी जमकर पानी निकाल कर बेचा जा रहा है। जा रहा है। इस पानी को 300 से 400 रुपए प्रति टैंकर के हिसाब से बेचा जा रहा है। इसका सीधा फर्क शहर के हैंड पंप और निजी बोरिंग के जल स्तर पर पड़ रहा है। शहर के कई हैंडपंप और बोरिंग इस अवैध जल दोहन के कारण जवाब दे चुके है।

जिम्मेदारों की अनदेखी

पंचशील विजय सरिता के पास लगे टयूबवेल से टैंकरों में पानी भरा जा रहा है।

कार्रवाई के लिए कोई तैयार नहीं

अवैध रूप से किए जा रहे जल दोहन के लिए जलदाय विभाग और भू जल वैज्ञानिक विभाग की ओर से कोई ठोस कार्रवाई भी नहीं की जा रही। जलदाय विभाग के इंजीनियरों का कहना है कि जलदाय विभाग जल वितरण का काम करता है। इसे भू जल विज्ञान विभाग को रोकना चाहिए। भूल जल विज्ञान के इंजीनियरों से जब बात की गई तो उन्होंने बताया जल दोहन को जिला प्रशासन संबंधित इलाके के तहसीलदार से ही रुकवा सकते है।