• Home
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • 20 हजार ट्रांसफार्मर भीड़वाले इलाकों में, 10 हजार सुरक्षा दीवार से होंगे कवर
--Advertisement--

20 हजार ट्रांसफार्मर भीड़वाले इलाकों में, 10 हजार सुरक्षा दीवार से होंगे कवर

अजमेर डिस्कॉम क्षेत्र में 10 हजार ट्रांसफार्मरों को इस साल सुरक्षा दीवारों से कवर किया जाएगा। यह कार्य भामाशाहों...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 04:15 AM IST
अजमेर डिस्कॉम क्षेत्र में 10 हजार ट्रांसफार्मरों को इस साल सुरक्षा दीवारों से कवर किया जाएगा। यह कार्य भामाशाहों एवं स्वयं सेवी संस्थाओं की मदद से करवाया जाएगा।

अजमेर डिस्कॉम क्षेत्र के इंजीनियरों को इस संबंध में गाइड लाइन जारी की गई है। डिस्कॉम प्रबंधन की ओर से करवाए गए सर्वे के अनुसार डिस्कॉम क्षेत्र में करीब 20 हजार ट्रांसफार्मर ऐसे पाए गए, जो भीड़ भरे इलाकों में हैं। यदि सावधानी नहीं बरती जाए तो आमजन एवं पशुओं को नुकसान हो सकता है। कोई वाहन ट्रांसफार्मर से टकरा जाए तो बड़ा हादसा भी हो सकता है। अजमेर डिस्कॉम प्रबंधन ने 31 मार्च 2018 तक डिस्कॉम क्षेत्र में एक हजार सुरक्षा दीवारों का निर्वाण करवाया, अब इस वित्तीय वर्ष में 10 हजार सुरक्षा दीवारें बनाने का लक्ष्य तय किया गया है। इंजीनियरों को अपने इलाकों में यह कार्य भामाशाहों, समाज सेवी संस्थाओं से करवाना है।

सांस गांव में हुए हादसे के बाद नवाचार

जयपुर डिस्कॉम के विराट नगर तहसील में सांस गांव में करीब 8 महीने पहले ट्रांसफार्मर के फटने से 21 मौतें हो गई थी। हालांकि यह हादसा पुराने ट्रांसफार्मर को बिना जांचे उपयोग में लेने के कारण हुआ। लेकिन अजमेर डिस्कॉम ने ऐसी अनहोनी से बचने के लिए डिस्कॉम क्षेत्र में सुरक्षा दीवारें बनाने का नवाचार प्रारंभ किया। यह कार्य जयपुर, जोधपुर और अजमेर डिस्कॉम में से केवल अजमेर डिस्कॉम में ही हो रहा है।

बाल-बाल बचे लोग

बुधवार को डिस्कॉम क्षेत्र के झुंझुनूं सर्किल के नवलगढ़ कस्बे में सुरक्षा दीवार के कारण एक बड़ा हादसा टला। एक पिकअप ने अनियंत्रित होकर एक ट्रांसफार्मर की सुरक्षा दीवार को जोरदार टक्कर मारी। इससे दीवार ताे टूट गई। मगर पिकअप में बैठे लोग करंट और बिजली तंत्र से बच गए। डिस्कॉम प्रबंधन की ओर से इस संबंध में दीवार बनाने वाले भामाशाह अनिल शर्मा को धन्यवाद पत्र भेजा गया है।