3 खाद्य निरीक्षक कैसे चलाएंगे शुद्ध के लिए युद्ध अभियान

Ajmer News - दीपावली नजदीक अाने के साथ ही मिलावटी खाद्य पदार्थों की जांच के लिए जिले भर में चलने वाला शुद्ध के लिए युद्ध अभियान...

Oct 13, 2019, 06:40 AM IST
दीपावली नजदीक अाने के साथ ही मिलावटी खाद्य पदार्थों की जांच के लिए जिले भर में चलने वाला शुद्ध के लिए युद्ध अभियान मात्र तीन निरीक्षकों के भरोसे है। जिले की पंजीकृत चार हजार से अधिक दुकानों के जांचने की जिम्मेदारी है। इन आंकड़ों के अलावा जिले भर में कई छाेटी बड़ी दुकानें, मसाला सेंटर ऐसे हैं जाे रजिस्टर्ड नहीं है। ऐसे में एक अधिकारी एक दुकान पर अाधा घंटा भी जांच करे ताे पूरे माह शेष दुकानों का नंबर ही नहीं अा सकता।

उल्लेखनीय है कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने मिलावटी सामग्री के वितरण व निर्माण की जांच के लिए तैयारियां शुरू कर दी। सरकार से दिशा निर्देश जारी हाेने के बाद शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत दुकानों पर खाद्य सामग्री की जांच की जा रही है। जांच की प्रक्रिया में जब्त सैंपल काे प्रयोगशाला भेजने के लिए जार में सैंपल पैक करना, सामग्री की खरीद काे लेकर पूरा डाटा लेना, उसकी पैकिंग सहित अन्य कार्रवाई पूरी करनी पड़ती है।

चाैथे निरीक्षक के जॉइन करने का इंतजार

जिलेभर में खाद्य मिलावट की जांच के लिए सीएमएचओ ऑफिस की खाद्य विभाग की यूनिट में चौथे निरीक्षक ने अभी तक तबादला हाेने के बावजूद पदभार ग्रहण नहीं किया है। दाे दिन पहले तक यूनिट में जिले भर के लिए मात्र दाे खाद्य निरीक्षक रमेशचंद सैनी, गोविंद गुर्जर तैनात थे, शुक्रवार काे प्रेमचंद शर्मा ने यहां पदभार ग्रहण किया। जबकि पदमसिंह परमार ने अभी जॉइन नहीं किया। सीएमएचओ डाॅ. के के साेनी के मुताबिक एक ने जॉइन नहीं किया। इस बारे में विभाग काे अवगत करवा दिया।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना