बाइक चोर गिरोह का पर्दाफाश, 24 बाइक बरामद

Ajmer News - अंतरराज्यीय बाइक चोर गिरोह के दो गुर्गे पुलिस के हत्थे चढ़े हैं। प्रारंभिक पूछताछ में दोनों ने दो दर्जन से अधिक...

Bhaskar News Network

Jan 14, 2019, 06:06 AM IST
Pushkar News - rajasthan news bike thief busted 24 bike recovered
अंतरराज्यीय बाइक चोर गिरोह के दो गुर्गे पुलिस के हत्थे चढ़े हैं। प्रारंभिक पूछताछ में दोनों ने दो दर्जन से अधिक वारदातें कबूल की हैं तथा अपने तीन अन्य साथियों के नाम उगले हैं। बाइक चोरों के कब्जे से पुलिस को अब तक चोरी की 24 मोटरसाइकिलें बरामद करने में कामयाबी मिली है। पुलिस गिरोह के मुख्य सरगना समेत तीन अन्य चोरों की सरगर्मी से तलाश कर रही है। पुलिस को उनके पकड़े जाने के बाद और अधिक वारदातें खुलने की उम्मीद है।

डीएसपी (ग्रामीण) नेमीचंद खारिया ने बताया कि पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप के आदेशानुसार जिले के बढ़ती चोरियों पर अंकुश लगाने व वाहन चोरों की धरपकड़ के लिए अभियान चलाया जा रहा है। इसके चलते पुष्कर थाना क्षेत्र में चोरी हुए वाहनों व बाइक चोरों की तलाश के लिए एक टीम गठित की गई। शुक्रवार की रात नाकेबंदी के दौरान दो बाइक चोर नागौर निवासी ग्राम छोटी पादू निवासी दिनेश पुत्र सियाराम बावरी तथा थांवला थानातंर्गत ग्राम लाडपुरा निवासी देवराम पुत्र रमजीराम बावरी टीम के हत्थे चढ़ गए। इस दौरान दोनों के पास चोरी की मोटरसाइकिलें थी। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर अदालत से तीन दिन के रिमांड पर लिया। रिमांड के पहले ही दिन पुलिस ने उनसे कड़ी पूछताछ की। जिसमें दोनों ने करीब दो दर्जन बाइक चोरी की वारदातें कबूल की। इस पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दोनों की निशान देही पर उनके घरों व बताए गए ठिकानों से अलग-अलग जगह से चुराई गई मोटरसाइकिलें बरामद कर ली। पुलिस की पूछताछ जारी है। पुलिस को इनसे और वारदातें खुलने की उम्मीद है।

एक साल से सक्रिय है छह सदस्यीय बाइक चोर गिरोह : डीएसपी खारिया ने बताया कि बाइक चोर गिरोह में मुख्य रूप से 6 सदस्य हैं। इनमें से एक पुष्कर के नजदीकी ग्राम पिचौलिया निवासी सोनू बावरी है। अन्य पांच सदस्य नागौर जिले के हैं। गिरोह का मुख्य सरगना देवाराम का साला पीलवा निवासी बुद्धाराम है। जबकि सोनपाल बावरी शेखपुरा, कालू बावरी जैजासनी के रहने वाले हैं। बताया गया है कि यह छह सदस्यीय गिरोह बीते करीब एक साल से बाइक चोरी की वारदातें कर रहा है। मुख्य रूप से गिरोह के गुर्गे पुष्कर, अजमेर, किशनगढ़, पीसांगन, डेगाना, परबतसर, मेड़ता, रियां, भीलवाड़ा आदि शहरों व गांवों में बाइक चोरी की वारदातों को अंजाम दिया है।

पहले रैकी करते हैं और बाद में बाइक को उड़ा ले जाते : थानाधिकारी नरेश शर्मा ने बताया कि बाइक चोर बड़े शातिर है। अक्सर दो-दो जने साथ में मिलकर एक वारदात को अंजाम देते है। बाइक उड़ाने से पहले ये 10 से 20 मिनट तक बाइक के आस-पास घूम कर रैकी करते थे।

चोरों की पहली पसंद एचएफ डीलक्स : बाइक चोर गिरोह की पहली पसंद एचएफ डीलक्स मॉडल की बाइक है। आलम यह है कि दोनों चोरों से चोरी कुल 24 मोटरसाइकिल बरामद की है। इनमें से 17 बाइक एचएफ डीलक्स है। इसके अलावा हीरो स्पलेंडर प्लस-3, हीरो पैशन प्रो, सिटी 100 व आई स्मार्ट 1-1 बाइक है। पुलिस ने आरोपी दिनेश के कब्जे से 11 व देवाराम से 13 बाइक बरामद की है।

पुष्कर. गिरोह से बदामद की गई बाइक।

फाइनेंस कंपनी का कर्मचारी बता कर 5 से 7 हजार रुपए में बेचते है चोरी की मोटरसाइकिल : शातिर बाइक चोर खुद को फाइनेंस कंपनी का कर्मचारी अथवा प्रतिनिधि बता कर चुराई गई मोटरसाइकिलों को केवल 5 से 7 हजार रुपए में बेचते थे। खास बात यह है कि चोर बाइक का सौदा 15 से 20 हजार रुपए में करते थे तथा कंपनी की ओर से बाइक के नए कागज भी बनाने का भरोसा दिलाते थे। जिससे कि बाइक खरीदने वालों को चोरी का शक भी नहीं होता था।

यह थे टीम में शामिल : एएसपी पुष्पेंद्र सोलंकी व डीएसपी नेमीचंद खारिया के आदेश तथा थानाधिकारी नरेश शर्मा के नेतृत्व में गठित पुष्कर पुलिस थाने की टीम में मुख्य रूप से एएसआई हंसपाल सिंह, श्रवण कुमार, नाथूलाल, हैड कांस्टेबल बनवारीलाल, देवकरण, कांस्टेबल सुखवीर, मोइनुदीन, हेमाराम, सुनील पारीक व जितेंद्र शामिल थे।

X
Pushkar News - rajasthan news bike thief busted 24 bike recovered
COMMENT