झालरे की सफाई के लिए कर्मचारियाें ने किया श्रमदान

Ajmer News - अजमेर| महान सूफी संत हजरत ख्वाजा माेइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह परिसर में स्थित पानी के एक मात्र प्राकृतिक...

Bhaskar News Network

Jun 15, 2019, 06:40 AM IST
Ajmer News - rajasthan news employees did the work of cleaning the skull
अजमेर| महान सूफी संत हजरत ख्वाजा माेइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह परिसर में स्थित पानी के एक मात्र प्राकृतिक स्त्राेत झालरे में शुक्रवार काे अल-सुबह सफाई अभियान चलाया गया। सफाई के लिए श्रमदान दरगाह कमेटी के चर्तुथ श्रेणी कर्मचारियों ने किया। कर्मचारियाें ने श्रमदान करके लाेगाें काे भी प्रेरणा दी। करीब तीन घंटे चले सफाई अभियान में 20 से ज्यादा कर्मचारियों ने हिस्सा लिया।

सुबह सुबह जब कर्मचारियाें ने झालरे की सफाई शुरू की उस वक्त जायरीन भी माैजूद थे। देखते ही देखते कर्मचारियाें के साथ कई जायरीन भी जुट गए अाैर फिर कुछ स्थानीय लाेगाें ने भी हाथ बंटाया। सफाई के दौरान जहां मल्बा, पत्थर, बांस और प्लास्टिक का कचरा निकाला गया। धार्मिक किताबें, मालाएं, तस्बीह सहित अन्य प्रकार का सामान भी निकाला गया। पिछली बार 2007 में झालरे की सफाई की गई थी तब झालरे का जल अपने न्यूनतम स्तर पर पहुंचा था। झालरे की गहराई तकरीबन 40 फीट है अाैर फिलहाल इसमें साढ़े तीन से चार फीट पानी उपलब्ध है। कर्मचारियाें का हाैसला बढ़ाने के िलए दरगाह कमेटी के सदस्य बाबर अशरफ और नाजिम शकील अहमद भी मौके पर मौजूद रहे। उन्होंने भी कर्मचारियों की मदद की। बाबर अशरफ के कहा कि हम कुदरत के दिए तोहफे की कद्र करें और उसकी हिफाजत करें यही वक्त की जरूरत है। नाजिम शकील अहमद ने कहा कि वर्तमान में झालरे की व्यवस्था एसआईपी प्रोजेक्ट के तहत भविष्य की चुनौतियों के मद्देनजर की जा रही है। भारत सरकार के स्वच्छ आईकाॅनिक पैलैस के तहत सीएसआर, हिन्दुस्तान जिंक द्वारा झालरे की सफाई और उसके सिविल वर्क की तैयारियां भी पूर्ण हो चुकी है। हिन्दुस्तान जिंक की अाेर से जोधपुर की बालाजी एंड कंपनी को वर्क आॅर्डर जारी किया जा चुका है। उनके प्रोजेक्ट मैनेजर टीम के साथ अजमेर आ चुके हैं।

X
Ajmer News - rajasthan news employees did the work of cleaning the skull
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना