प्रधानमंत्री ने किया समाज कल्याण संगठनों के प्रतिनिधियों से कोरोना चुनौती पर विचार-विमर्श

Ajmer News - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दरगाह दीवान सैयद जैनुअल आबेदीन अली...

Mar 31, 2020, 06:35 AM IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दरगाह दीवान सैयद जैनुअल आबेदीन अली खान के पुत्र सैयद नसीरुद्दीन सहित समाज कल्याण के लिए काम करने वाले विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ विचार-विमर्श कि‍या।

सैयद नसीरुद्दीन चिश्ती ने बताया कि प्रधानमंत्री ने कहा कि पूरा देश ‘कोविड-19’ की विकट चुनौती का सामना करने में असीम हिम्‍मत, दृढ़ता और संयम का परिचय दे रहा है। राष्ट्र एक अप्रत्याशित संकट का सामना कर रहा है और इन संगठनों की सेवा एवं उनके संसाधनों की जितनी आवश्यकता अभी है उतनी पहले कभी नहीं रही थी। उन्होंने सुझाव दिया कि ये संगठन गरीबों के लिए बुनियादी आवश्यकताओं की ठोस व्यवस्था करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। इसके साथ ही वे अपनी चिकित्सा सुविधाओं एवं स्वयंसेवकों को मरीजों तथा जरूरतमंद लोगों की सेवा करने के लिए समर्पित कर सकते हैं। प्रधानमंत्री ने यह बात रेखांकित की कि ‘कोविड-19’ की चुनौती से पार पाने के लिए देश को अल्पकालिक उपायों और एक दीर्घकालिक विजन दोनों की ही सख्‍त आवश्यकता है।

अंधविश्वास व गलत धारणाओं से निबटने में अहम भूमिका

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि अंधविश्वास, गलत धारणाओं और भ्रामक सूचनाओं से निपटने में उन्‍हें अहम भूमिका निभानी है। उन्होंने इस ओर ध्यान दिलाया कि गलत धारणाओं के कारण लोगों को विभिन्‍न स्थानों पर इकट्ठा होते हुए और फि‍र सामाजिक दूरी बनाए रखने के मानदंड का उल्लंघन करते हुए देखा जा सकता है।

दरगाह में जारी है लंगर | दीवान पुत्र सैयद नसीरुद्दीन चिश्ती ने पीएम से वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग में कहा कि वे सरकार के साथ खड़े हैं। लोगों को कोविड 19 से बचाव के लिए अपने घरों में ही रहना चाहिए। ख्वाजा साहब की दरगाह में लंगर जारी है। यहां जो जायरीन हैं, उन्हें खाना पहुंचाया जा रहा है। चिश्ती ने बताया कि दोपहर 12 बजे से शुरू हुई वीसी करीब पौने दो घंटे तक चली।

पीएम मोदी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करते दरगाह दीवान के पुत्र नसीरुद्दीन।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना