• Hindi News
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • Ajmer News rajasthan news the family members of the patient are pulling the trolley stretcher ward bye are engaged in other work

मरीज के परिजन ही खींच रहे हैं ट्राॅली-स्ट्रेचर, वार्ड बाय लगे हैं दूसरे कार्य में

Ajmer News - जेएलएन अस्पताल में खुद ट्राली खींचने पर मजबूर मरीज के परिजन। जेएलएन अस्पताल में व्यवस्था बदहाल, भर्ती और जांच...

Jan 23, 2020, 06:35 AM IST
Ajmer News - rajasthan news the family members of the patient are pulling the trolley stretcher ward bye are engaged in other work
जेएलएन अस्पताल में खुद ट्राली खींचने पर मजबूर मरीज के परिजन।

जेएलएन अस्पताल में व्यवस्था बदहाल, भर्ती और जांच कराने में परेशानी, ज्ञापन पर सुनवाई नहीं

हेल्थ रिपाेर्टर | अजमेर

जवाहरलाल नेहरू चिकित्सालय में वार्ड बाय की कमी का खामियाजा मरीज के परिजन उठा रहे हैं। यहां मरीजों काे आपातकालीन यूनिट से लेकर वार्ड में भर्ती करवाने या जांच के लिए लेकर जाने तक की जिम्मेदारी परिजन की है। अस्पताल की हर यूनिट के बाहर मरीजों के परिजन ट्रॉली या स्ट्रेचर खींचते देखे जा सकते हैं।

सबसे अधिक एक्स-रे, सोनोग्राफी या लैब के बाहर स्ट्रेचर पर लेटे देखे जा सकते हैं। बुधवार दोपहर दाे युवतियां अपने पिता काे दूसरी मंजिल से रैंप के जरिए धीरे धीरे स्ट्रेचर नीचे लेकर अा रही थी। दाेनाें ही युवतियों व उनकी मां से स्ट्रेचर संभल नहीं रहा था। भास्कर की टीम ने मदद करके उन्हें नीचे उतारा। पूछताछ की ताे पता चला कि दाे घंटे से अधिक समय हाे गया। नर्सिंग स्टाफ ने जांच के लिए कहा लेकिन काेई भी वार्ड बाय लेने के लिए नहीं अाया।

समय निकलता देख आखिर वही जैसे तैसे स्ट्रेचर का इंतजाम करके जांच के लिए लेकर जा रही है। वहीं वार्ड बाय का कहना था कि यहां स्टाफ के पद अाधे से अधिक खाली पड़े हैं। कई बार ज्ञापन दे दिया लेकिन काेई सुनवाई नहीं हाे रही।

कई वार्ड बाय काे दूसरे कामाें में लगा रखा है। इसी कारण परिजन स्वयं ही मरीजों काे लाते ले जाते दिख जाते हैं। संविदा पर ही वार्ड बाय की भर्ती हाे जाए ताे समस्या का समाधान हाे जाए।

X
Ajmer News - rajasthan news the family members of the patient are pulling the trolley stretcher ward bye are engaged in other work
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना