--Advertisement--

मिनी उर्स कल से, जायरीन के पहुंचने का सिलसिला जारी, 200 से अधिक बसें पहुंची

मोहर्रम की पहली तारीख से मिनी उर्स की शुरूआत होती है । इस बार यह शुरुआत बुधवार से होगी

Danik Bhaskar | Sep 11, 2018, 05:15 PM IST

अजमेर. मुहर्रम के मौके पर महान सूफी संत हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह में मनाया जाने वाला मिनी उर्स बुधवार से शुरू होगा। इस उर्स में शिरकत के लिए जायरीन के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया है। जिला परशासन दवारा जायरीन को कायड़ विश्राम स्थली में ठहराया जा रहा है। यहां पर अब तक 200 से अधिक बसों से जायरीन पहुंच चुके हैं।

मोहर्रम की पहली तारीख से मिनी उर्स की शुरूआत होती है । इस बार यह शुरुआत बुधवार से होगी। इस मौके पर दरगाह में हजरत बाबा फरीद गंज ए शक्कर का चिल्ला खोला जाएगा । यह चिल्ला मोहर्रम की 4 तारीख यानी 15 सितंबर को तड़के 4:00 बजे खोल दिया जाएगा। उर्स में भाग लेने के लिए देश भर से जायरीन के आने का सिलसिला शुरु हो चुका है। अधिकांश जायरीन कायड़ विश्राम स्थली में ठहराया जा रहे हैं । यहां स्थित डोरमेट्री लगभग भरने को है । अन्य पक्के स्थलों पर भी जायरीन ठहर रहे हैं । दरगाह कमेटी के सूत्रों के मुताबिक यहां अब तक जायरीन की 200 से अधिक बसें आ चुकी है और यह सिलसिला अभी जारी है।

जियारत के लिए लगी कतार

इधर- दरगाह में जायरीन की भीड़ बढ़ने से रौनक बनी हुई है । आस्ताना शरीफ के बाहर जायरीन की लंबी कतार देखी जा रही है । जायरीन सिर पर मखमल की चादर और अकीदत के फूलों का नजराना लिए अपनी बारी का इंतजार करते देखे जा रहे हैं । दरगाह बाजार और आसपास के क्षेत्र में जायरीन की भीड़ के चलते काफी गहमागहमी है।

फोटो आरिफ कुरैशी