--Advertisement--

आज बंद : समर्थन और विरोध में उतरे संगठन, प्रशासन मौन

सुप्रीम कोर्ट की ओर से एससी एसटी एक्ट के मामले में दिए गए निर्णय के विरोध में सोमवार को प्रस्तावित भारत बंद को...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 03:30 AM IST
आज बंद : समर्थन और विरोध में उतरे संगठन, प्रशासन मौन
सुप्रीम कोर्ट की ओर से एससी एसटी एक्ट के मामले में दिए गए निर्णय के विरोध में सोमवार को प्रस्तावित भारत बंद को देखते हुए पुलिस व प्रशासन ने जिले में तैयारी कर ली है। बडी संख्या में एससी-एसटी से जुडे संगठनों सहित राजनीतिक पार्टियों ने भी बंद को समर्थन किया है। वहीं दूसरी ओर बंद के विरोध में भी कई संगठन मैदान में उतर आए है। शहर के व्यापारिक संगठनों ने प्रतिष्ठान खुले रखने की बात कही है। प्रशासन की ओर से इस संबंध में किसी भी प्रकार की कोई पहल नहीं की गई है। बंद समर्थक व विरोधियों में से किसी से भी बात नहीं की है।


रैली निकाल व्यापारियों से प्रतिष्ठान बंद रखने की अपील की

बंद का समर्थन कर रहे संगठनों ने रविवार शाम शहर में मोटरसाइकिल रैली निकालकर व्यापारियों से प्रतिष्ठान बंद रखने की अपील की है। अंबेडकर चौराहा से शुरू हुई रैली शहर के विभिन्न मार्गों से होकर निकली। सोमवार को मोटरसाइकिल रैली निकालने का निर्णय लिया गया है। अनुसूचित जाति जनजाति संगठनों के अखिल भारतीय परिसंघ ने एससी एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर 2 अप्रैल को भारत बंद के आह्वान का समर्थन करते हुए व्यापारियों से शांति पूर्ण बंद बाजार बंद रखने को कहा है। आवश्यक सेवा को बंद से अलग रखा गया है। शेष पेज| 12

जिलाध्यक्ष गिर्राज जाटव ने बताया कि सोमवार सुबह 7.30 बजे अंबेडकर सर्किल से शहर में बाइक रैली निकाल कर व्यापारियों से प्रतिष्ठान बंद रखने की अपील की जाएगी। इसके अलावा सुबह 10.30 बजे वैशाली नगर चौराहा, मोतीडूंगरी स्थित मीणा छात्रावास, भूरासिद्ध चौराहा, हाउसिंग बोर्ड व शिवाजी पार्क से रैली निकाली जाएगी। चारों रैली पहले अंबेडकर सर्किल पहुंचेगी। वहां से रैली के रूप में सब्जी मंडी, कृषि उपज मंडी, बजाजा बाजार, तिलक मार्केट, सर्राफा बाजार, तेज मंडी, होते हुए रैली वापस अंबेडकर सर्किल पहुंचेगी। जिला मेव पंचायत के संरक्षक शेर मोहम्मद ने बंद को समर्थन दिया है। अनुसूचित जाति,अनुसूचित जनजाति अधिवक्ता परिसंघ के अध्यक्ष अशोक वर्मा की अध्यक्षता में हुई बैठक में बंद को समर्थन देने का निर्णय लिया गया। एसएफआई अलवर की जिला कमेटी ने भारत बंद का समर्थन करने का फैसला लिया है। डॉ.बीआर अंबेडकर विकास समिति कस्बा डहरा की रविवार को बैठक हुई। बैठक में भारत बंद को समर्थन देने की निर्णय लिया गया। व्यापारियों से शांतिपूर्ण बंद रखने की अपील की है। दलित शोषण मुक्ति मंच की ओर से सुबह 10.30 बजे अंबेडकर सर्किल पर विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। विरोध प्रदर्शन में अखिल भारतीय जनवादी महिला समिति,भारत की जनवादी नौजवान सभा के कार्यकर्ता भी शामिल होंगे। मेवात किसान पंचायत एवं इंसाफ ने भी बंद का समर्थन किया है। डा. वीरेंद्र विद्रोही, सपात खां व मौलाना हनीफ ने बंद की अपील की है।

बंद के समर्थन में रैली निकालते विभिन्न संगठनों के लोग।

अलवर बंद को लेकर पुलिस बल अलर्ट : अलवर बंद के आह्वान को देखते हुए शहर सहित जिलेभर में पुलिस बल को अलर्ट किया गया है। जिला मुख्यालय के एएसपी श्याम सिंह ने बताया कि जिले के सभी थानों को अलर्ट किया है। साथ ही पुलिस लाइन से सभी थानों में 15 से 30 पुलिस कर्मी अतिरिक्त तैनात किए है। दो आरएसी कंपनियां तैनात रहेंगी। शहर में पुलिस जाप्ता आईपीएस व दक्षिण सीओ अनिल बेनीवाल सहित ग्रामीण सीओ सांवर मल नागौरा के नेतृत्व में तैनात किया है। खेड़ली व रामगढ़ में अतिरिक्त पुलिस बल लगाया है।

बंद के विरोध में आए व्यापारिक संगठन, सुरक्षा की मांग की

अलवर जिला व्यापार महासंघ एवं संयुक्त व्यापारी महासंघ ने बंद का विरोध किया है। दोनों संगठनों ने प्रतिष्ठान जिला प्रशासन से व्यापारियों को सुरक्षा देने की मांग की है। अलवर जिला व्यापार महासंघ जिला अध्यक्ष रमेश जुनेजा की अध्यक्षता में संगठन की बैठक हुई। इसमें निर्णय लिया गया कि सर्वोच्च न्यायालय द्वारा एससी एसटी एक्ट में दिए गए निर्णय का समर्थन करते हैं। शेष पेज| 12

व्यापारी प्रतिष्ठान खुले रखेंगे। व्यापारियों ने कलेक्टर व एसपी को ज्ञापन देकर सुरक्षा मांगी है। बैठक में संरक्षक सतीश भाटिया,दिनेश कुमार गुप्ता,टिम्बर एसोसिएशन ,सर्राफा कमेटी,फर्नीचर एसोसिएशन , डिस्पोजल एसोसिएशन,टायर एसोसिएशन, केंडल गंज व्यापार समिति ,सब्जी मंडी एसोसिएशन , अलवर इलेक्ट्रिक एसोसिएशन , शूज़ एसोसिएशन , मार्बल एसोसिएशन ,थोक वस्त्र व्यापार समिति , रेडीमेड एसोसिएशन ,हलवाई एसोसिएशन ,आज़ाद मार्केट ,शिवाजी पार्क मार्केट ,सीमेंट एसोसिएशन , टैंट डीलर एसोसिएशन,ऑटोमोबाइल डीलर एसोसियेशन व हार्डवेयर एसोसियेशन के अध्यक्ष सहित अनेक व्यापारी मौजूद थे। संयुक्त व्यापारी महासंघ अलवर समिति के संयोजक सुरेश गुप्ता के नेतृत्व में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्याम सिंह को ज्ञापन सौंपकर सुरक्षा की मांग की है। ज्ञापन में कहा कि वे प्रतिष्ठान खुले रखेंगें। ऐसे में प्रशासन की ओर से उन्हें सुरक्षा दी जाए। युवा ब्राह्मण सभा के अध्यक्ष आकाश मिश्रा ने बताया कि संगठन ने अलवर शहर , मालाखेड़ा , कोटकासिम , खैरथल , भिवाडी , किशनगढ़ , राजगढ़ , बानसूर , मुंडावर एवं नीमराना आदि में व्यापारियों से संपर्क कर प्रतिष्ठान खुले रखने की मांग की है। अलवर जिला युवा ब्राहाण सभा ने राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन भेजकर सुरक्षा देने की मांग की है। संगठन ने बंद के नाम पर जातीय हिंसा फैलने की आशंका जताई है। परशुराम सेना के शहर अध्यक्ष वैभव शर्मा ने बताया कि संगठन ने व्यापारियों से दुकानें खुली रखने की अपील की है। अलवर जिला ब्राह्मण महासभा मोहन भारद्वाज ने कहा कि बंद का महासभा विरोध करती है।

जाम व उपद्रव की स्थिति में रोडवेज बसें थाने में खड़ी करने के निर्देश : रोडवेज प्रशासन ने 2 अप्रैल को प्रस्तावित भारत बंद को देखते हुए चालक व परिचालकों को दिशा निर्देश दिए हैं। बस संचालन के दौरान मार्ग में जाम लगने व उपद्रव की स्थिति में सुरक्षा के उपाय अपनाते हुए बसें पुलिस थानों में खड़ी की जाएंगी।

X
आज बंद : समर्थन और विरोध में उतरे संगठन, प्रशासन मौन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..