--Advertisement--

सुखमनी साहिब के पाठ के बाद सजा कीर्तन दरबार

अलवर. गुरुद्वारा में शबद कीर्तन करता भाई जितेंद्र मदान रागी जत्था। माता महेंद्र कौर की पुण्य स्मृति में हुआ...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 04:10 AM IST
अलवर. गुरुद्वारा में शबद कीर्तन करता भाई जितेंद्र मदान रागी जत्था।

माता महेंद्र कौर की पुण्य स्मृति में हुआ आयोजन

अलवर | माता महेंद्र कौर की स्मृति में गुरुवार को मनुमार्ग स्थित गुरुद्वारे में शबद कीर्तन और लंगर का आयोजन हुआ। कार्यक्रम की शुरुआत सुबह सुखमनी साहिब के पाठ के साथ हुई। इसके बाद भाई जितेंद्र मदान, भाई सूरत सिंह खालसा व भाई बसंत गांधी ने गुरबाणी का कीर्तन कर संगत को निहाल किया। इसके बाद लंगर प्रारंभ हुआ। जिसमें काफी संख्या में संगत ने प्रसादी पाई। इसी गुरुद्वारे में 15 फरवरी से प्रारंभ होने वाले तीन दिवसीय 94वें गुरमत समागम की तैयारी चल रही है। कार्यक्रम में भाग लेने के लिए संगत का आना शुरू हो गया है। गुरमत समागम के दौरान अखंड कीर्तन, कथा वाचन व सामूहिक विवाह का आयोजन होगा, जिसमें देश विदेश से करीब 1 लाख संगत भाग लेगी। इस उपलक्ष्य में इन दिनों गुरुद्वारे में अखंड पाठ की लड़ी चल रही है। प्रतिदिन 100 से अधिक संगत निष्काम भाव से सेवा कर रही है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..