--Advertisement--

सेमिनार में बताया ऊर्जा संरक्षण का महत्व

अलवर। एनआईईटी कॉलेज में गुरुवार को ऊर्जा संरक्षण विषय पर राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन किया गया। मुख्य वक्ता...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 04:10 AM IST
अलवर। एनआईईटी कॉलेज में गुरुवार को ऊर्जा संरक्षण विषय पर राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन किया गया। मुख्य वक्ता पेट्रोलियम कंजर्वेशन रिसर्च एसोसिएशन के रितेश कचेता ने कहा कि अभी भी लोगों में ऊर्जा संरक्षण के प्रति जागरुकता नहीं है। लोगों को पता नहीं है कि उनके घरों में जो बिजली एक बटन दबाने से आ रही है, उसके पीछे कितना लंबा चक्र पॉवर प्लांट्स में चलता है। एक लीटर पेट्रोल में से लगभग 2500 ग्राम कार्बन डाई आॅक्साइड निकलती है, जाे सामान्य मनुष्य के लिए कितनी हानिकारक है। उन्होंने ईंधन व बिजली बचत के बारे में विस्तृत जानकारी दी। प्राचार्य डॉ. आरके सक्सेना ने कहा कि यदि दैनिक दिनचर्या में प्रत्येक आदमी ठान ले कि उसे ऊर्जा का संरक्षण करना है तो जितना खर्चा ऊर्जा पैदा करने में होता है, वह खर्चा विकास कार्यों में लग सकेगा। प्रोफेसर एसके सिन्हा ने कहा कि देश हित में ऊर्जा संरक्षण करना प्रत्येक व्यक्ति का काम है। ऊर्जा को बिना किसी वजह से नष्ट नहीं करें। इस दौरान अभिनव शर्मा ने सेमिनार में मौजूद लोगों को ऊर्जा संरक्षण की शपथ दिलाई तथा अकादमी प्रभारी राकेश शर्मा ने ऊर्जा संरक्षण पर विचार रखे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..