• Home
  • Rajasthan News
  • Alwar News
  • पटवारी 17 दिन से कर रहे कार्य बहिष्कार, किसान व ग्रामीण परेशान
--Advertisement--

पटवारी 17 दिन से कर रहे कार्य बहिष्कार, किसान व ग्रामीण परेशान

पटवारियों द्वारा अतिरिक्त बारह पटवार मंडलाें के कार्य बहिष्कार करने के 17 दिन हाेने के बाद भी राजस्व विभाग द्वारा...

Danik Bhaskar | Feb 02, 2018, 04:10 AM IST
पटवारियों द्वारा अतिरिक्त बारह पटवार मंडलाें के कार्य बहिष्कार करने के 17 दिन हाेने के बाद भी राजस्व विभाग द्वारा वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की गई हैं। जिससे पटवार मंडल के किसान व ग्रामीणों को राजस्व सहित विभिन्न कार्यों के लिए परेशानी का सामना करना पड़ रहा हैं। जिससे लाेग कचहरी में चक्कर लगाकर परेशान हाे रहे है। जिनकी सुनवार्इ नहीं हाेने से आक्रोशित हाेने लगे है। दरअसल राज्य सरकार ने जून 2017 में राजस्व कार्यों के सामूहिक कार्य बहिष्कार के समय राजस्थान पटवार संघ के साथ वार्ता की। जिसमें पटवारियों की मांगों को मान कर शीघ्र निस्तारण करने की बात कही गर्इ। लेकिन सरकार द्वारा पटवारियों कि मांगों का समर्थन नहीं करने पर 15 दिसंबर को अतिरिक्त पटवार मंडल के पटवारियों ने तहसीलदार को बस्ते जमा करा दिए। जिससे क्षेत्र की खाेहर, मोहम्मदपुर, अनन्तपुरा, कांकरदाेपा, शेरपुर, गुजरवास, मोहम्मदपुर, पहाड़ी, जैनपुरवास, गूंती, जागुवास, तसींग ग्राम पंचायतों के लोगों के राजस्व से संबंधित कामकाज अटक गए। जिससे किसान व ग्रामीण कचहरी में कार्य के लिए भटक रहे है। जिनकी सुनवार्इ नहीं हाेने से आक्रोशित हाेने लगे है।

पटवार मंडलाें में प्रभावित हुए काम

12 ग्राम पंचायतों के पटवार मंडलाें के बस्ते तहसीलदार कार्यालय पर जमा हाेने से ग्रामीणों के जमीन नकल, गिरदावरी, नामांतरण, सीमाज्ञान, पैमाइश, सहित अन्य राजस्व कार्य नहीं हाे रहे है। जिसके कारण परेशान हाे रहे हैं। पटवार संघ अध्यक्ष त्रिलोकचंद यादव ने बताया कि पटवारियों की मांगों का समाधान नहीं हाेने से अतिरिक्त मंडलाें की 12 ग्राम पंचायतों के बस्ते तहसीलदार कार्यालय पर जमा किए गए हैं। जिसके लिए विभाग द्वारा वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की गर्इ है। जिससे ग्रामीण जमीन संबंधी कार्याे काे लेकर परेशान हाे रहे हैं। जिससे आगामी दिनों में बैठक के बाद आगामी निर्णय लिया जाएगा।