Hindi News »Rajasthan »Alwar» कल के अलवर बंद का एक तरफ समर्थन, दूसरी तरफ हो रहा विरोध

कल के अलवर बंद का एक तरफ समर्थन, दूसरी तरफ हो रहा विरोध

एससी एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर दो अप्रैल को विभिन्न संगठनों की ओर से प्रस्तावित भारत बंद के तहत...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 04:15 AM IST

एससी एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर दो अप्रैल को विभिन्न संगठनों की ओर से प्रस्तावित भारत बंद के तहत अलवर बंद का एक तरफ समर्थन और दूसरी तरफ विरोध हो रहा है।

जाटव समाज श्री गंगा मंदिर सेवा समिति की अशोक राजोरिया की अध्यक्षता में हुई बैठक में बंद का समर्थन किया। अनुसूचित जाति व जनजाति संगठनों के अखिल भारतीय परिसंघ की नरेंद्र कुमार मीणा की अध्यक्षता में हुई बैठक में बंद का समर्थन किया गया। अखिल भारतीय कोली समाज की दुलीचंद कोली की अध्यक्षता में हुई बैठक में बंद में शामिल होने का निर्णय लिया। दलित मुक्ति मंच ने 1 से 14 अप्रैल तक अंबेडकर जयंती पखवाड़ा मनाने व बंद का समर्थन करने का निर्णय लिया। अखिल राजस्थान अनुसूचित जाति जनजाति अधिकारी कर्मचारी महासंघ (प्रगतिशील) ने भी बंद का समर्थन किया है।

ये संगठन कर रहे हैं विरोध

समता आंदोलन समिति की बैठक में भारत बंद का विरोध करने का निर्णय लिया गया। समिति ने सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय का समर्थन किया है।

युवा ब्राह्मण सभा परिवार ने सुप्रीम कोर्ट के निर्णय का स्वागत और दो अप्रैल के भारत बंद का विरोध किया है। संस्था अध्यक्ष आकाश मिश्रा ने बताया कि युवा परिवार के कार्यकर्ता अन्य समाजों के साथ एक अप्रैल को पूरे जिले में दौरा कर व्यापार मंडलों से सोमवार को बाजार खोलने का आग्रह करेंगे। इधर, जिला युवा ब्राहाण सभा के तत्वावधान शनिवार को शहर के युवाओं ने सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा के समर्थन में हस्ताक्षर अभियान की शुरुआत की। कैंपेन का शुभारंभ कचहरी के बाहर से किया गया।

सर्राफा की दुकानें खुलेंगी : श्री सर्राफा व्यापार समिति ने 2 अप्रैल को प्रस्तावित बंद को अनुचित बताते हुए इस दिन दुकानें खोलने का निर्णय लिया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Alwar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×