• Home
  • Rajasthan News
  • Alwar News
  • तेज आवाज में बजाए गाने, 9 इंच मोटी दीवार में किया छेद,10 बाल अपचारी भागे
--Advertisement--

तेज आवाज में बजाए गाने, 9 इंच मोटी दीवार में किया छेद,10 बाल अपचारी भागे

शहर के हसन खां मेवात नगर स्थित राजकीय बाल संप्रेषण गृह की दीवार में सेंध लगाकर 10 बाल अपचारी फरार हो गए। घटना 1 मार्च...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 07:25 AM IST
शहर के हसन खां मेवात नगर स्थित राजकीय बाल संप्रेषण गृह की दीवार में सेंध लगाकर 10 बाल अपचारी फरार हो गए। घटना 1 मार्च को दोपहर करीब 1 बजे की है। सूचना के बाद अरावली विहार थानाधिकारी विनोद सामरिया सहित बाल संप्रेषण गृह के अधिकारी मौके पर पहुंचे।

करीब छह घंटे बाद टेल्को चौराहा, शालीमार बस स्टैंड व शालीमार आवासीय कॉॅलोनी के पीछे खेतों में छिपकर बैठे सभी बाल अपचारियों को पकड़ कर थाने लाया गया। पूछताछ के बाद बाल अपचारियों को बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया गया। समिति ने सभी बाल अपचारियों को वापस संप्रेषण गृह भेजने के आदेश दिए।

थानाधिकारी सामरिया ने बताया कि बाल अपचारियों ने बाल संप्रेषण गृह के चौक में लगी एलईडी में तेज आवाज में गाने शुरू कर दिए। इसी दौरान उन्होंने करीब 9 इंच मोटी दीवार में छेद किया। इसके बाद एक-एक कर 10 बाल अपचारी भाग निकले। अन्य बाल अपचारियों ने इसकी सूचना मौके पर मौजूद दो सुरक्षा गार्डों को दी। इसके बाद पुलिस हरकत में आई और बाल अपचारियों की तलाश शुरू कर दी तथा शाम करीब 6 बजे तक अलग-अलग जगहों से सभी को पकड़ लिया गया।

गौरतलब है कि बाल संप्रेषण गृह में लगभग 23 बाल अपचारी रह रहे हैं। इससे पहले भी कई बार बाल अपचारी संप्रेषण गृह से फरार हो चुके हैं।

हर साल भागते हैं अपचारी, पर प्रशासन नहीं लेता सबक

राजकीय बाल संप्रेषण एवं किशोर गृह से हर साल एक-दो बार बाल अपचारी किसी ना किसी तरीके से फरार होते हैं, इसके बावजूद प्रशासन ऐसी घटनाओं से कोई सबक नहीं लेता। हर बार फरार होने वाले बाल अपचारियों को पकड़कर इतिश्री कर ली जाती है। ऐसा भी हो चुका है कि कई बाल अपचारी दो-दो बार भाग गए, फिर भी प्रशासन ने संप्रेषण गृह की सुरक्षा व्यवस्था मजबूत नहीं की। पिछले साल 16 जून को दो बाल अपचारी संप्रेषण गृह का चैनल गेट चौड़ा कर फरार हो गए थे। हालांकि इन बालकों को उसी दिन करीब पांच-छह घंटे बाद पकड़ लिया गया था। इससे पहले पिछले साल जनवरी के चौथे सप्ताह में 5 बाल अपचारी संप्रेषण गृह से फरार हो गए थे। इन अपचारियों ने संप्रेषण गृह के गार्ड से चाबी छीनकर उसे कमरे में बंद कर दिया था।