अलवर

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Alwar News
  • फल-सब्जी मंडी आढ़ती यूनियन व युवा आढ़ती एसोसिएशन हुई आमने-सामने
--Advertisement--

फल-सब्जी मंडी आढ़ती यूनियन व युवा आढ़ती एसोसिएशन हुई आमने-सामने

फल एवं सब्जी आढ़ती यूनियन एवं युवा आढ़ती एसोसिएशन अब आमने-सामने हो गई है। फल एवं सब्जी आढ़ती यूनियन ने तत्कालीन...

Dainik Bhaskar

Mar 04, 2018, 07:25 AM IST
फल-सब्जी मंडी आढ़ती यूनियन व युवा आढ़ती एसोसिएशन हुई आमने-सामने
फल एवं सब्जी आढ़ती यूनियन एवं युवा आढ़ती एसोसिएशन अब आमने-सामने हो गई है। फल एवं सब्जी आढ़ती यूनियन ने तत्कालीन मंडी सचिव विष्णुदत्त शर्मा के खिलाफ किए आंदोलन में साथ नहीं देने पर युवा आढ़त एसोसिएशन के 4 व्यापारियों को निष्कासित करने का फैसला किया था। इन चारों व्यापारियों की फर्मों के नाम वाट्सएप पर एक व्यापारी ने वायरल कर दिए। इससे नाराज युवा आढ़तिया यूनियन ने गुरुवार को धरना दिया। धरने पर बैठे व्यापारियों को कहना था कि उनकी साख खराब की गई। युवा आढ़तियों ने अपनी सब्जियां सड़क पर फेंककर विरोध प्रदर्शन भी किया। युवा आढ़ती एसोसिएशन के अध्यक्ष जितेंद्र सैनी ने बताया कि यूनियन की ओर से जारी किए गए मैनेज के बाद उनके पास लोगों के फोन आने लगे तो उन्होंने विरोध जताने का निर्णय लिया। इसलिए गुरुवार को अग्रसेन सर्किल की ओर मंडी के गेट पर धरना दिया। धरना देने वालों में भगवान सैनी, बिरजू मीणा, सचिन सैनी, दिनेश सैनी, बबलू प्रजापत, अशोक मीणा, भरतलाल, दायमा गुर्जर, कालू गुर्जर, पांच राम, हरी सैनी आदि शामिल थे। धरने के दौरान उन्होंने मांग की कि मंडी यूनियन के सदस्य उनके सामाजिक बहिष्कार के लिए क्षमा मांगें। मंडी समिति को आढ़तिये 11 रुपए प्रति यूनिट की दर से बिजली दे रहे हैं, उसे नौ रुपए किया जाए। इधर, फल एवं सब्जी मंडी आढ़ती यूनियन के अध्यक्ष देवेंद्र छाबड़ा का कहना है कि यूनियन की ओर से नियमों के अनुसार फैसला लेकर 4 युवा व्यापारियों को कुछ अवधि के लिए निष्कासित किया गया है। हमारी मंशा ऐसी नहीं है कि व्यापारियों का अहित हो। मंडी समिति ने 28 दिसंबर 2012 को प्रस्ताव पास कर थ्री फेस कनेक्शन के लिए निर्णय लिया था। केले पकाने के लिए चैंबर बनाने की राज्य सरकार की योजना थी। हमने नियमों के खिलाफ कोई कार्य नहीं किया।

क्यों हुआ ऐसा: फल एवं सब्जी मंडी में बिजली के बिल व केले पकाने के चैंबरों को लेकर मंडी समिति व व्यापारियों के बीच तनातनी हुई। फल एवं सब्जी आढ़ती यूनियन ने तत्कालीन मंडी सचिव का विरोध किया। युवा आढ़ती एसोसिएशन के सदस्यों ने इसमें भाग नहीं लिया। इस पर 4 युवा आढ़तियों का निष्कासन किया गया।

अलवर. मंडी में प्रदर्शन करते युवा आढ़ती एसोसिएशन के सदस्य।

X
फल-सब्जी मंडी आढ़ती यूनियन व युवा आढ़ती एसोसिएशन हुई आमने-सामने
Click to listen..