--Advertisement--

अच्छी आय, टिकाऊ रोजगार मिलेगा

चंदा कोचर एमडी व सीईओ, आईसीआईसीआई बैंक बुनियादी ढांचा निर्मित करने पर फोकस बनाए रखा है। भारत को ऊंची और टिकाऊ...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 05:45 AM IST
चंदा कोचर एमडी व सीईओ, आईसीआईसीआई बैंक

बुनियादी ढांचा निर्मित करने पर फोकस बनाए रखा है। भारत को ऊंची और टिकाऊ वृद्धि के रास्ते पर ले जाने का उद्‌देश्य है।

बजट ने भारतीय अर्थव्यवस्था की विभिन्न प्राथमिकताओं पर समग्रता के साथ ध्यान देने का प्रशंसनीय काम किया है। इसमें सामाजिक क्षेत्र की प्राथमिकताओं पर गौर किया गया है और वित्तीय अनुशासन बरकरार रखते हुए बुनियादी ढांचे को आगे बढ़ाने की स्पष्ट योजना सामने रखी है। ग्रामीण अर्थव्यवस्था के व्यापक क्षेत्रों के लिए घोषित कदमों से आमदनी के स्तर में इजाफा होगा और इससे अच्छी आमदनी वाला टिकाऊ रोजगार पैदा होगा। बदले में अर्थव्यवस्था में खपत का स्तर भी बढ़ेगा। खपत बढ़ने से मांग पैदा होगी और आर्थिक चक्र तेज होगा।

दूरगामी राष्ट्रीय स्वास्थ्य रक्षा योजना अपने आप में दुनिया की सबसे बड़ी ऐसी योजना होगी। इसके साथ शिक्षा, कौशल और शोध और विकास को बढ़ावा देने के लिए उठाए कदम वाकई स्वागतयोग्य हैं। सरकार ने बुनियादी ढांचा निर्मित करने पर फोकस बनाए रखा है। इसके पीछे भारत को ऊंची और टिकाऊ वृद्धि के रास्ते पर ले जाने का उद्‌देश्य है। सड़क और रेलवे के लिए आवंटन अब तक का सर्वाधिक है, जिसका इनसे संबंधित सेक्टरों में भी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। ये सारे कदम पिछले बजटों से जारी वित्तीय दूरदर्शिता को ध्यान में रखकर ही उठाए गए हैं। खर्च को बजटीय और गैर-बजटीय स्रोतों में बांटा गया है। सार्वजनिक क्षेत्र के कर्ज को जीडीपी की तुलना में अधिकतम स्तर तक अपनाने से वित्तीय ढांचे में अधिक आत्मविश्वास जगेगा। कुल-मिलाकर बजट ने उच्च अार्थिक वृद्धि के लिए विज़न सामने रखा है, जिसमें अर्थव्यवस्था के विभिन्न हिस्सों के प्रति समग्र दृष्टि रखने से सामाजिक सशक्तीकरण का उद्‌देश्य भी पूरा होता है। दोनों दिशाओं में संतुलन इसकी खासियत है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..