--Advertisement--

अलवर में नकल कराने के नाम पर लाखों ठगे, 3 बदमाश पकड़े

कांस्टेबल भर्ती परीक्षा से एक दिन पहले 4 जिलों में एसओजी की कार्रवाई

Danik Bhaskar | Jul 14, 2018, 05:58 AM IST

अलवर. राजस्थान पुलिस ने प्रदेश में पुलिस ने कांस्टेबल भर्ती की लिखित परीक्षा से एक दिन पहले शुक्रवार को अलवर में नकल गिरोह से जुड़े 3 लोगों को गिरफ्तार किया है। ये तीनों लोग कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में नकल एवं पेपर आउट कराने की एवज में अभ्यर्थियों से पैसे लेकर ठगी कर रहे थे। पुलिस ने बोगस ग्राहक बनकर तीनों को धर-दबोचा। एसपी राहुल प्रकाश ने बताया कि 14 व 15 जुलाई को प्रदेश स्तर पर आयोजित होने वाली कांस्टेबल भर्ती की लिखित परीक्षा में जिले में नकल गिरोह द्वारा पेपर आउट कराने, नकल कराने सहित अभ्यर्थियों से पेपर पास कराने की एवज में ठगी किए जाने की सूचना मिली थी। गिरोह के सदस्यों को पकड़ने के लिए विशेष टीम का गठन किया गया। जांच में सामने आया कि भागेंद्र पुत्र जले सिंह जाट व मनीष कुमार पुत्र सुल्तान सिंह मेघवाल निवासी जाटका थाना किशनगढ़बास एवं ओमदत्त पुत्र पूर्णचंद स्वामी निवासी टांकाहेड़ी थाना किशनगढ़बास कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में नकल व पेपर आउट कराने की एवज में खैरथल व किशनगढ़बास इलाके के अभ्यर्थियों से पैसे ले रहे हैं और उन्हें परीक्षा से पहले सभी प्रश्न पत्र उपलब्ध कराने की गारंटी दे रहे हैं। पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर इनके खिलाफ राजस्थान परीक्षा अधिनिय म 1992 की धाराओं में मामला दर्ज किया है।

चूरू के राजगढ़ में नकल कराने के लिए 50 हजार रुपए लिए

चूरू/राजगढ़. पुलिस भर्ती परीक्षा में नकल करवाने के नाम पर रुपए एंठने की सूचना मिलने पर शुक्रवार शाम जयपुर से आई एसओजी की टीम ने राजगढ़ तहसील के गांव कांधराण में तीन युवकों को पकड़ा है। पकड़े गए तीनों युवकों के पास से बड़ी संख्या में आधार कार्ड, प्रवेश पत्र व नकद रुपए भी जब्त किए गए। तीनों युवकों ने भर्ती परीक्षा में नकल करवाने, केंद्र पर दूसरा व्यक्ति बैठाकर पेपर करवाने आदि बाते कहकर लोगों से प्रति अभ्यर्थी 30 से 50 हजार रुपए लिए है। शुक्रवार रात तक एसओजी की टीम कार्रवाई में जुटी हुई थी।

करौली में छह संदिग्धों को हिरासत में लेकर किया पाबंद:

करौली. पुलिस भर्ती परीक्षा में नकल माफिया के खिलाफ सख्ती दिखाते हुए पुलिस ने 6 संदिग्धों को शुक्रवार को ही हिरासत में लेकर पाबंद किया है, जबकि अन्य संदिग्धों की पुलिस तलाश कर रही है। पुलिस ने शनिवार से शुरू होने वाली दो दिवसीय पुलिस भर्ती परीक्षा के लिए तैयारियां पूर्ण कर ली हैं। एसपी ने शुक्रवार को अधिकारियों की बैठक ली।

इधर, सीकर में अब तक 13 गिरफ्तारियां

सीकर. नकल गिरोह के लोग कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के फर्जी प्रश्नपत्र के आधार पर ही बेरोजगार युवाओं के साथ ठग रहे थे। गिरोह के सरगना संदीप व उसके गुर्गों ने पहले भी कई भर्तियों में परीक्षा पास कराने की डील कर रखी थी। युवाओं से भर्तियों में परीक्षा पास कराने के लिए पैसे भी ले रखे थे। उन भर्तियों में सिलेक्ट नहीं होने के बाद उन्होंने राजस्थान पुलिस की परीक्षा पास कराने का झांसा दिया।

फर्जी प्रश्नपत्र बेचकर अभ्यर्थियों को ठग रहे थे, 4 आैर आरोपी गिरफ्त में: पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में सक्रिय नकल गिरोह के भंडाफोड़ के दूसरे दिन भी सीकर पुलिस ने 4 जनों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अब तक गिरोह में शामिल कुल 13 जनों को गिरफ्तार कर चुकी है। वहीं सीकर पुलिस ने देर रात को गिरफ्तार किए 9 जनों को कोर्ट में पेश किया जिनमें से 8 को दो दिन के पुलिस रिमांड पर सौंप दिया गया और एक को जेल भेज दिया।