• Home
  • Rajasthan News
  • Alwar News
  • फिल्म ‘फ्राइडे’ की अनारकली बेटियों को देगी सुरक्षा
--Advertisement--

फिल्म ‘फ्राइडे’ की अनारकली बेटियों को देगी सुरक्षा

फिल्म फ्राइडे में अनारकली का अभिनय करने वाली अलवर की बेटी शिवानी बेटियों के साथ होने वाली घरेलू दुष्कर्म की...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 04:10 AM IST
फिल्म फ्राइडे में अनारकली का अभिनय करने वाली अलवर की बेटी शिवानी बेटियों के साथ होने वाली घरेलू दुष्कर्म की घटनाओं से चिंतित है, वे शीघ्र ही एक ऐसी संस्था बनाने जा रही है जिसमें घरेलू व बाहरी स्तर पर होने वाली घटनाओं से पीडि़त युवतियों की सहायता की जा सके। अलवर आने पर भास्कर कार्यालय में आई शिवानी ने कहा कि आम तौर यह देखने में आ रहा है कि घरों में रहने वाली बालिकाओं, युवतियों के साथ उनके रिश्तेदार या परिवार के अन्य सदस्य इस तरह का काम करते है जो कि असहनीय है। उसके बाद भी किसी कारण से वे उसे सहन करती रहती है। इसलिए वे इस पर काम करेंगी। इसके तहत एक मोबाइल नंबर होगा जिस पर पीडि़ता केवल एक कॉल करेगी तो उसे सहायता मिल सकेगी। यह काम अतिशीघ्र शुरु किए जाने की तैयारी है। वे कहती है कि रील और रियल लाइन में कोई अंतर नहीं है। सुंदरता से ज्यादा जरुरी टैलेंट होता है। यदि अगर आपके अंदर कुछ करने की आग है तो लक्ष्य हासिल करना कोई मुश्किल काम नहीं है। मशहूर अभिनेता गोविंदा के साथ फिल्म फ्राइडे में अनारकली का किरदार निभाकर सेकंड लीड रोल में नजर आने वाली शिवानी राय ने बताया कि पहली बार में फिल्म जगत के बड़े सितारे गोविंदा के साथ काम करना ही अपने आप में चैलेंज था। उनकी यह फिल्म अगले माह मई में रिलीज होगी। इसके बाद भी जून में उनकी दूसरी फिल्म ना अहम भी बड़े पर्दे पर प्रदर्शित होगी। भारत में रिलीज से पहले इस फिल्म में इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में दिखाया जाएगा। दोनों फिल्म में उनका काम में खास बात यह रही की उनके मिले रोल के सभी शॉट पहले ही टेक में रेडी हो गए। उन्होंने बताया कि बड़े पर्दे पर आने का उनका सपना था, जिसे पूरा होने में 6 साल लग गए। शिवानी अपनी इस सफलता के पीछे किस्मत और सोशल मीडिया का बड़ा योगदान बताती है। शिवानी के अनुसार स्कूल से ही उनकी नाटक में काफी रुचि थी। लेकिन मैं चाह कर भी अपने शोक को पूरा नहीं कर सकी। क्योंकि स्कूल में इस तरह की रुचि रखने वालो के लिए लोगो का एक अलग ही नजरिया होता था। हाल में मुंबई से अलवर लौटी शालिनी एनजीओ बनाकर दुष्कर्म पीड़ित बच्चों व जरूरतमंदों के लिए कार्य करने की तैयारी कर रही है।

भास्कर कार्यालय में शिवानी राय।

शिवानी का सफर

शिवानी के पिता सेना में थे। वो वर्ष 1992 अपने पिता के साथ सिकंदरा से अलवर आई। अलवर के लाल डिग्गी के पास रहते हुए उन्होंने वर्ष 2001 तक अपनी स्कूल शिक्षा अलवर में पूरी की। उच्च स्तरीय पढ़ाई के बाद उन्होंने मुंबई में एयर होस्टेस की नौकरी की। इसी बीच उन्हें लव के फंडे फिल्म में काम करने का ऑफर मिला। फिल्म में उनके रोल का शूट शुरु हो चुका था, लेकिन किसी कारण के चलते शिवानी ने फिल्म में काम करने से मना कर दिया। इसी बीच खुद को बड़े पर्दे के लिए तैयार करने के लिए काफी वक्त मिला। उन्होंने हैदराबाद में दो वर्ष थियेटर किया। करीब चार से पांच साल के संघर्ष के बाद वो अब जल्द ही बड़े पर्दे पर नजर आएंगी।