• Hindi News
  • Rajasthan
  • Alwar
  • मोहनराम मेले में आए श्रद्धालु जाम से जूझते रहे, किसी की चेन तो किसी का मोबाइल हुआ पार
--Advertisement--

मोहनराम मेले में आए श्रद्धालु जाम से जूझते रहे, किसी की चेन तो किसी का मोबाइल हुआ पार

Alwar News - जन-जन की आस्था के केंद्र बाबा मोहनराम काली खोली मंदिर पर बुधवार को द्वितीया तिथि पर आयोजित मासिक मेले में विभिन्न...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:25 AM IST
मोहनराम मेले में आए श्रद्धालु जाम से जूझते रहे, किसी की चेन तो किसी का मोबाइल हुआ पार
जन-जन की आस्था के केंद्र बाबा मोहनराम काली खोली मंदिर पर बुधवार को द्वितीया तिथि पर आयोजित मासिक मेले में विभिन्न राज्यों से पहुंचे सैंकडों श्रद्धालुओं ने मत्था टेका। श्रद्धालुओं के भिवाड़ी पहुंचने का सिलसिला सोमवार से ही शुरू हो गया था। वहीं यातायात को सुचारू रखने के लिए पर्याप्त व्यवस्था के अभाव में काली खोली मार्ग पर जाम से श्रद्धालु जूझते रहे। बुधवार को खासी भीड़भाड़ के बीच असामाजिक तत्वों ने भी श्रद्धालुओं के मोबाइल, पर्स व सोने की चेन भी पार की। काली खोली धाम पर दर्शनों के दौरान नोएडा के होशियारपुर निवासी शशिप्रभा प|ी विक्रम सिंह के करीब दो तोला की चेन बदमाशों ने पार कर ली। इसी तरह गाजियाबाद के शास्त्रीनगर निवासी अमित चौधरी पुत्र चंद्रपाल सिंह के जेब से पर्स तथा दिल्ली निवासी राहुल वशिष्ठ पुत्र ओमप्रकाश के जेब से करीब 19 हजार रुपए का मोबाइल अज्ञात व्यक्ति पार कर ले गए। पीड़ित मामले को लेकर पुलिस के पास भी पहुंचे। पुलिस ने कुछ संदिग्धों से पूछताछ भी की लेकिन कोई सुराग नहीं लग सका।

बुधवार को सुबह से पड़ रही तेज धूप भी श्रद्धालुओं के कदमों को मंदिर की ओर बढऩे से नहीं रोक सकी। दोपहर बाद आकाश में छाए बादलों ने श्रद्धालुओं की राह आसान कर दी। मौसम ने साथ दिया तो लोगों का उत्साह देखते ही बन रहा था। शहर के सभी मार्गों पर भगवा पताकाएं लिए श्रद्धालु या उनके वाहन ही नजर आ रहे थे। ऐसे में पूरा शहर बाबा मोहनराम के रंग में रंगा नजर आया। बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक हाथों में भगवा पताका लेकर बाबा मोहनराम के जयकारे लगाते हुए समूहों में उत्साह से काली खोली धाम की ओर बढ़ते देखे जा सकते थे। काली खोली मार्ग पर लोगों के समूह ही नजर आ रहे थे। अच्छी भीड़भाड़ देखकर मेले के दुकानदार भी प्रसन्न नजर आए।

मिलकपुर व आलमपुर मंदिर पर भी रही भीड़

काली खोली धाम के अलावा शहर में स्थित बाबा मोहनराम मिलकपुर मंदिर व आलमपुर मंदिर भी दर्शनार्थियों की खासी भीड़ देखने को मिली। नाचते गाते श्रद्धालु अपनी मनोकामना लेकर बाबा के दरबार में पहुंचे। वहीं कुछ ने अपनी मनौती पूरे होने पर भंडारे जैसे आयोजन भी किए। शहर में विभिन्न स्थानों पर सामाजिक संगठनों की ओर से यात्रियों की सेवार्थ शीतल पेयजल की व्यवस्थाएं भी की गई थी। भिवाड़ी में प्रत्येक माह की कृष्ण पक्ष की द्वितीया (दूज) पर मेला लगता है। यहां होली व रक्षा बंधन पर विशाल मेले का आयोजन किया जाता है।

पुलिस व स्वयंसेवकों की व्यवस्था नहीं होने से जाम के हालात

काली खोली मार्ग पर यातायात संभालने के लिए पर्याप्त संख्या में पुलिस व स्वयंसेवकों की व्यवस्था न होने के कारण यहां सुबह से ही जाम के हालत बन गए। चौपहिया वाहनों को मंदिर के नीचे लगी प्रसाद की दुकानों तक ले जाने के कारण अव्यवस्था का माहौल बन गया। रही सही कसर दुपहिया चालकों ने भी पूरी कर दी। काली खोली की ओर जाने वाले मार्ग पर सड़क के दोनों ओर यात्री वाहनों, पानी के टैंकरों व भंडारों के कारण जाम के हालत विकट बन गए।

X
मोहनराम मेले में आए श्रद्धालु जाम से जूझते रहे, किसी की चेन तो किसी का मोबाइल हुआ पार
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..