• Home
  • Rajasthan News
  • Alwar News
  • हत्या का प्रयास करने के मामले में दो जनों को 7-7 साल का कारावास
--Advertisement--

हत्या का प्रयास करने के मामले में दो जनों को 7-7 साल का कारावास

अलवर | अपर सेशन न्यायाधीश संख्या एक राजेंद्र शर्मा ने करौली जिले के कुडगांव थाना क्षेत्र के पलीता गांव निवासी सागर...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 05:40 AM IST
अलवर | अपर सेशन न्यायाधीश संख्या एक राजेंद्र शर्मा ने करौली जिले के कुडगांव थाना क्षेत्र के पलीता गांव निवासी सागर उर्फ सुगर सिंह पुत्र पीतम सिंह मीणा तथा राजगढ़ थाना क्षेत्र के मालुका निवासी संजीव कुमार पुत्र गीलाराम मीणा को हत्या के प्रयास के मामले में दोषी मानते हुए प्रत्येक को 7 वर्ष के कारावास व 5-5 हजार रुपए के जुर्माने से दंडित किया है। अपर लोक अभियोजक योगेंद्र सिंह खटाना ने बताया कि 21 अप्रैल 2013 को कलसाडा बस्ती निवासी सुशीला देवी ने मालाखेड़ा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि 20 अप्रैल 2013 को सुबह 11 बजे बिना नंबर की बाइक पर सवार एक व्यक्ति ने आशा नाम की महिला को गोली मारी और फरार हो गया। अगले दिन वही व्यक्ति सुबह 9 बजे उसी बाइक पर दो अन्य व्यक्तियों के साथ दोबारा सुशीला के घर के सामने आया और उसकी बेटी पिंकी पर फायर किया। इस पर बस्ती के लोगों ने अपने वाहनों से आरोपियों का पीछा किया तो लक्ष्मणगढ़ चौराहे की तरफ आरोपियों ने पीछा कर रहे पिंटू नाम के युवक को जाने से मारने की नीयत से उस पर फायर किया। इसके बाद आरोपी श्याम गंगा से सताना की तरफ मुड़ गए, जहां मोटरसाइकिल स्लिप हो जाने से एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई तथा शेष दो आरोपी पहाड़ी पर चढ़ गए। जिन्हें स्थानीय लोगों की मदद से गिरफ्तार कर पुलिस को सौंपा गया। इस पर अदालत ने दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद सागर उर्फ सुगर सिंह व संजीव को पीछा करने वाले पिंटू की पीठ पर पिस्तौल से गोली मारकर उसकी हत्या का प्रयास करने का दोषी मानते हुए यह सजा सुनाई है।