अलवर

--Advertisement--

घुमंतू जाति के लोगों को दी कानून की जानकारी

अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस के अवसर पर तालुका विधिक सेवा समिति बहरोड़ के तत्वावधान में जागरूकता टीम के द्वारा...

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 05:45 AM IST
घुमंतू जाति के लोगों को दी कानून की जानकारी
अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस के अवसर पर तालुका विधिक सेवा समिति बहरोड़ के तत्वावधान में जागरूकता टीम के द्वारा बंजारा बस्ती नीमराना में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। इसमें पैनल अधिवक्ता जितेंद्र सांमरिया ने श्रमिक कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी एवं उन्होंने श्रमिकों को श्रम पंजीयन करवाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने बताया कि समय-समय पर श्रमिकों के लिए कई कल्याणकारी कानून एवं योजनाएं बनाई गई हैं लेकिन श्रमिक शिक्षा के अभाव में इनका उचित रूप से लाभ नहीं ले पाते हैं। श्रमिकों को रोजगार हमेशा नहीं मिल पाता है। इसलिए काम की कोई गारंटी नहीं होती है। एक जगह से दूसरी जगह जाते रहते हैं। स्वास्थ्य सेवा एवं प्रसूति लाभ जो संगठित क्षेत्र में उपलब्ध है वह असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए नहीं है। श्रमिकों के लिए कर्मकार प्रतिकर अधिनियम 1923, कर्मचारी राज्य बीमा अधिनियम 1948, प्रसूति प्रसुविधा अधिनियम 1961 औद्योगिक अपवाद अधिनियम 1947, कर्मचारी भविष्य निधि अधिनियम 1952, आदि कानून बनाए हुए हैं। लेकिन पूर्ण रुप से वो लाभ नहीं ले पाते हैं। शिविर में ग्राम पंचायत नीमराना के सरपंच सतीश मुद्गल ने भी श्रमिकों को श्रम पंजीयन कराने एवं बच्चों की शिक्षा के लिए उपस्थित श्रमिकों को प्रेरित किया। शिविर में पैरा लीगल वालंटियर जयकिशन, भोलाराम शर्मा, राजू सिंह, आशा देवी, नरेंद्र सिंह चौहान एवं युवा नेता रिंकू बड़सीवाल आदि मौजूद थे।

नीमराना. बंजारा बस्ती में विधिक साक्षरता शिविर की जानकारी देते अतिथि।

X
घुमंतू जाति के लोगों को दी कानून की जानकारी
Click to listen..