अलवर

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Alwar News
  • अदालत में राजीनामे के बाद छोटे भाई की पत्नी को लेने गए जेठ के पैर तोड़े
--Advertisement--

अदालत में राजीनामे के बाद छोटे भाई की पत्नी को लेने गए जेठ के पैर तोड़े

रामगढ़| परिवार कल्याण समिति अलवर की स्थायी लोक अदालत में पालका निवासी पति-प|ी के विवाद में राजीनामे के बाद छोड़े भाई...

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 06:05 AM IST
रामगढ़| परिवार कल्याण समिति अलवर की स्थायी लोक अदालत में पालका निवासी पति-प|ी के विवाद में राजीनामे के बाद छोड़े भाई की प|ी को उसके पीहर जाड़ोली गांव में लेने गए जेठ को पीहर पक्ष के लोगों ने बंधक बना लिया और पेड़ से बांधकर सरियों से हमला कर पैर तोड़ दिए। घटना की सूचना पर रामगढ़ थाना पुलिस जाड़ोली पहुंची और बंधक जेठ जमशेद पुत्र समयदीन पुत्र चांद खां निवासी पालका थाना एनईबी अलवर को घायलावस्था में रामगढ़ सीएचसी में भर्ती कराया। जहां से प्राथमिक उपचार के बाद जमशेद को अलवर रैफर कर दिया। घायल का उपचार कर रहे सीएचसी इंचार्ज डाॅ.पीयूष तिवाड़ी के अनुसार जमशेद के दोनों पैर चोटों से बुरी तरह जख्मी हैं व पैरों की हड्डियां टूट गई है।

घायल के पिता समयदीन खां निवासी पालका ने बताया कि उसके छोटे पुत्र मुबारिक की शादी 6 वर्ष पूर्व रूबीना पुत्री इसाक निवासी जाडोली के साथ हुई थी। विवाह के बाद से ही उसकी प|ी बार-बार झगड़ा करके पीहर जाडोली चली जाती थी। मामला परिवार कल्याण समिति अलवर स्थायी लोक अदालत में चल रहा था। मामले पर समझाइश के बाद 30 अप्रैल को रूबीना व उसके पिता ने राजीनामा पेश कर पति मुबारिक के साथ ससुराल जाने की इच्छा जाहिर कर दी। अदालती राजीनामा अनुसार मंगलवार को मुबारिक का भाई जमशेद अपने चाचा हाजी नबी खां व चालक सहित चार रिश्तेदारों को लेकर भाई के ससुराल जाडोली पहुंचा। यहां बहू रूबीना के पिता इसाक व उसके अन्य परिवारजनों ने जमशेद को अलग से घर में बुलाकर बंधक बनाते हुए पेड़ से बांध दिया। सरियों से मारपीट कर दोनों पैर तोड़ दिए। जमशेद के साथ गए लोगों ने रामगढ़ थाना पहुंच पुलिस को सूचना दी।


X
Click to listen..