शरद पूर्णिमा अाज, भूरासिद्ध हनुमान मंदिर में 1008 भक्त करेंगे सुंदरकांड का पाठ

Alwar News - अलवर| शरद पूर्णिमा 13 अक्टूबर को मनाई जाएगी। इस अवसर पर मंदिरों में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। रात्रि 12...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 06:50 AM IST
Alwar News - rajasthan news sharad purnima aaj 1008 devotees will recite sunderkand in bhuraisiddh hanuman temple
अलवर| शरद पूर्णिमा 13 अक्टूबर को मनाई जाएगी। इस अवसर पर मंदिरों में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। रात्रि 12 बजे अारती कर भगवान को खीर का भोग लगाया जाएगा। इसके बाद भक्तों को प्रसाद वितरित किया जाएगा। धार्मिक सेवा परिषद के अध्यक्ष अनिल खंडेलवाल ने बताया कि भूरासिद्ध मंदिर में हनुमान प्रतिमा को रामनाम का चोला चढ़ाया जाएगा अाैर फूल बंगला की झांकी सजाई जाएगी। कार्यक्रम में 108 दीपक जलाए जाएंगे। रात्रि 8 बजे रामधुनी संकीर्तन तथा 9 बजे 1008 भक्त सामूहिक रूप से संगीतमय सुंदरकांड का पाठ करेंगे। 12 बजे हनुमानजी महाराज को 7026 लड्डुओं तथा 702.6 किलो दूध की खीर का भोग लगाकर प्रसाद वितरित किया जाएगा। यह कार्यक्रम महंत योगेश दास महाराज के सानिध्य में होगा। श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए मंदिर में निशुल्क जोड़ा घर की भी व्यवस्था रहेगी। शरद पूर्णिमा के अवसर पर सुभाष चौक स्थित जगन्नाथ मंदिर, लक्ष्मीनारायण मंदिर, बजाजा बाजार स्थित महावर गोविंददेव मंदिर, अट्टा मंदिर, स्कीम नंबर दो स्थित बैकुंठधाम मंदिर सहित अन्य मंदिरों में भजन संध्या का अायोजन होगा। इधर मुंशी बाग स्थित विश्वकर्मा मंदिर में शाम 7 बजे भजन संध्या का अायाेजन हाेगा।

60 बाद शरद पूर्णिमा पर बन रहा विशेष संयाेग : पं. यज्ञदत्त शर्मा का कहना है कि इस बार शरद पूर्णिमा पर शनि व गुरु धनु राशि में हाेंगे। एेसा याेग 60 साल पहले 16 अक्टूबर काे 1959 में बना था। शनि अाैर गुरु का प्रभाव सभी 12 राशियाें पर पड़ेगा। उन्हाेंने बताया कि 30 साल बाद महालक्ष्मी याेग बन रहा है। चंद्रमा मीन राशि में अाैर मंगल कन्या राशि व हस्त नक्षत्र में रहेगा। इससे पहले 14 अक्टूबर काे 1989 में एेसी स्थिति बनी थी। चंद्रमा पर गुरु की दृष्टि पड़ने से गजकेसरी याेग बन रहा है।

X
Alwar News - rajasthan news sharad purnima aaj 1008 devotees will recite sunderkand in bhuraisiddh hanuman temple
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना