नाटक में दिखा आत्मिक व भाैतिक सुख का अंतर्द्वंद

Alwar News - अरावली आर्टिस्ट अकादमी अलवर की अाेर से आयोजित दसवीं अखिल भारतीय हिंदी लघु नाटक एवं नृत्य प्रतियाेगिता के दूसरे...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 06:41 AM IST
Alwar1 News - rajasthan news the conflict of spiritual and moral happiness shown in the drama
अरावली आर्टिस्ट अकादमी अलवर की अाेर से आयोजित दसवीं अखिल भारतीय हिंदी लघु नाटक एवं नृत्य प्रतियाेगिता के दूसरे दिन रविवार शाम काे राजर्षि अभय समाज के रंगमंच पर गुजरात की सूर्य विहार नाट्य समिति के कलाकाराें ने गाैफ रास नृत्य पेश किया। इसमें ध्रुव, विजय, मयंक, मर्गी, तरुषा सहित अन्य कलाकारों ने भाग लिया। जयपुर की ताम्हणकर थिएटर अकादमी की अाेर से नाटक अंतर्द्वंद का मंचन किया गया। लेखक एवं निर्देशक हेमचंद्र ताम्हणकर के इस नाटक में सामाजिक ताने-बाने के बीच आत्मिक व भाैतिक सुख के बीच अंतर्द्वंद्व काे पेश किया गया। इस नाटक में माेहित, अरशिया, अजय, निधि व हेमचंद्र ने विभिन्न भूमिकाएं निभाई। संस्था की अाेर से राजस्थानी लाेकनृत्य भी पेश किया गया। अरावली अकादमी के निर्देशक नरेंद्र शर्मा ने बताया कि अखिल भारतीय नृत्य व लघु नाटक प्रतियाेगिता में पश्चिम बंगाल से अाई दाे संस्थाओं की अाेर से नाटक प्रस्तुत किए जाएंगे। प्रतियाेगिता का समापन 12 नवंबर काे हाेगा।

हर दो साल में यह प्रतियोगिता कराती है अरावली आर्टिस्ट अकादमी, यह दसवां आयोजन : इस प्रतियोगिता के दौरान देश के विभिन्न प्रदेशाें के नृत्य एवं नाटक दल का जमावड़ा हाेता है। चार दिन के कार्यक्रम में भारत के विभिन्न प्रांताें की लाेक कलाअाें काे नजदीक से जानने का मौका मिला है। अरावली अकादमी के अध्यक्ष दिनेश भार्गव, महामंत्री तेजकुमार, काेषाध्यक्ष त्रिलाेक टाेंगड़ा व निर्देशक नरेंद्र शर्मा ने बताया कि विभिन्न प्रदेशाें की नृत्य शैली व नाट्य विधाओं की जानकारी शहर के लाेगाें काे मिले, इसके लिए अकादमी ने अखिल भारतीय नाट्य प्रतियाेगिता का आयोजन वर्ष 2006 से शुरू किया। अकादमी के संस्थापक एवं वयाेवृद्ध सदस्य गिरिराज जैमिनी ने शहर के लाेगों को देश के विभिन्न प्रदेशाें के सांस्कृतिक वैभव से रूबरू कराने के उद्देश्य से यह प्रतियाेगिता शुरू कराई। वर्तमान में इस अकादमी से 38 लोग जुड़े हुए हैं। यह अकादमी हर दाे साल में इस प्रतियाेगिता का आयोजन करती है। इसमें भाग लेने वाले देश के विभिन्न हिस्सों से अाए कलाकार व स्थानीय लाेक कलाकार मिलकर रंगयात्रा भी निकालते रहे हैं। साथ ही विभिन्न भाषाओं में नाटकाें का मंचन देखने काे मिलता है। अकादमी की अाेर से शहर में इस बार यह दसवां आयोजन हाे रहा है।

अलवर. गाेफ रास पेश करते गुजरात के कलाकार।

X
Alwar1 News - rajasthan news the conflict of spiritual and moral happiness shown in the drama
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना