• Home
  • Rajasthan News
  • Atru News
  • पत्नी को फोन करने से नाराज था, साथियों के साथ मिलकर धारदार हथियारों से की युवक की हत्या
--Advertisement--

पत्नी को फोन करने से नाराज था, साथियों के साथ मिलकर धारदार हथियारों से की युवक की हत्या

थानाक्षेत्र के अंधेरी नदी की छोटी पुलिया पर आनंदपुरा गांव निवासी युवक की रविवार रात को रंजिश को लेकर धारदार...

Danik Bhaskar | Mar 06, 2018, 02:00 AM IST
थानाक्षेत्र के अंधेरी नदी की छोटी पुलिया पर आनंदपुरा गांव निवासी युवक की रविवार रात को रंजिश को लेकर धारदार हथियारों से निर्मम हत्या कर दी। आरोपियों का नौ दिन पहले आरोपी के घर फोन करने को लेकर मृतक से विवाद हो गया था। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। हत्या का मामला दर्ज कर चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गांव में पुलिस बल तैनात किया गया है।

कवाई थानाधिकारी दलबीर सिंह फौजदार ने बताया कि आनंदपुरा निवासी भोजराज (35) पुत्र जगदीश गुर्जर रविवार को ट्रैक्टर से थ्रेशर को ठीक करवाने के लिए अटरू आया था। रात 8 बजे के लगभग थ्रेशर को ठीक करवाकर वापस अपने गांव जा रहा था। रास्ते में अंधेरी नदी के बीच टापू के पास में घात लगाकर बैठे मुकेश गुर्जर सहित अन्य ने भोजराज पर हमला कर दिया। भोजराज ट्रैक्टर से नीचे उतारकर गंडासी से ताबड़तोड़ वार किए। इससे उसकी गर्दन व हाथ पर भी गहरा घाव हो गया। हमले से भोजराज गंभीर घायल हो गया। मौके से हमलावर फरार हो गए। भोजराज के साथ मौजूद भतीजों ने घटना की सूचना परिजनों को दी और परिजन मौके पर पहुंचे और रात 10 बजे अटरू चिकित्सालय लेकर पहुंचे। यहां डॉक्टरों ने भोजराज को मृत घोषित कर दिया। थोड़ी देर बाद अटरू व कवाई पुलिस भी अस्पताल पहुंची और शव को अपने कब्जे में लिया। शव को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में रखवा दिया। सोमवार सुबह अस्पताल में मृतक के परिजन और ग्रामीण एकत्रित हुए।

आनंदपुरा गांव में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस जाब्ता तैनात किया। डीएसपी रणविजय सिंह भी आनंदपुरा पहुंचे और स्थिति का अवलोकन किया। शव का पोस्टमार्टम कर परिजनों को सौंप दिया।



मृतक भोजराज।

अटरू. हत्या की घटना के बाद कस्बे के अस्पताल में कार्रवाई करती पुलिस।

यह था विवाद: प|ी को फोन करने से नाराज होकर आरोपी ने की थी ट्रैक्टर में तोड़फोड़

कवाई थानाधिकारी फौजदार ने बताया कि 24 फरवरी को भोजराज ने मुकेश की प|ी के पास फोन किया था। प|ी ने यह बात मुकेश को बताई। शराब के नशे में मुकेश ने भोजराज के खेत पर पहुंचकर उसके ट्रैक्टर में तोड़फोड़ कर दी। इस पर मुकेश की प|ी ने भोजराज के खिलाफ फोन कर परेशान करने की रिपोर्ट दी। वहीं भोजराज ने मुकेश के खिलाफ ट्रैक्टर में तोड़फोड़ करने की रिपोर्ट दी थी। जांच कर रहे रामकैलाश मीणा के समक्ष दोनों पक्षों ने पारिवारिक मामला बताया और कहा कि समझाइश हो गई है।

4 आरोपियों को गिरफ्तार किया, अन्य की तलाश

एसपी डीडी सिंह ने बताया कि हत्या के मामले में टीम गठित कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी। इसमें मोरपाल गुर्जर, मदनलाल गुर्जर, महावीर गुर्जर व बाबूलाल गुर्जर को गिरफ्तार किया गया है। मुकेश सहित अन्य आरोपियों की पुलिस टीमें तलाश कर रही हैं।

पुलिस रिपोर्ट में मृतक के भाई ने बताई आपबीती

ट्रैक्टर से खींचा, फिर गंडासी से गर्दन व हाथ काट डाला

आनंदपुरा निवासी भुवनेश गुर्जर ने रिपोर्ट में बताया कि 4 मार्च को वह, उसका भाई भोजराज (38) व सोनू अटरू से थ्रेशर ठीक करवाकर लौट रहे थे। वह ट्रैक्टर चला रहा था। भाई भोजराज व सोन गुर्जर ट्रैक्टर पर बैठे हुए थे। अानंदपुरा गांव के पास पुलिया पर रात करीब 8 बजे पहुंचे तो गांव के ही मुकेश पुत्र कंवरलाल गुर्जर, मदनलाल पुत्र रतनलाल गुर्जर, मोरपाल पुत्र कंवरलाल, रमेश पुत्र कंवरलाल, हरिसिंह पुत्र कंवरलाल, महावीर पुत्र मदनलाल, लडडूलाल पुत्र रतनलाल एवं बाबू पुत्र रतनलाल सहित 10-15 अन्य ने आगे आकर ट्रैक्टर रुकवा दिया। ट्रैक्टर रोकते ही मुकेश व हरिसिंह ने उसके भाई भोजराज को खींचकर नीचे उतार लिया। मदनलाल ने गंडासी से भोजराज की गर्दन पर वार कर दिया। जिससे गर्दन कट गई। मुकेश व हरिसिंह ने भी गंडासी से वार किया, जिससे उसका दांया हाथ कट गया। इसके बाद भी आरोपियों ने मारपीट की। वह और सोनू गुर्जर बचाने के लिए दौड़े तो मोरपाल, महावीर व लटूर ने पकड़ लिया और कहा कि भोजराज को तो मार दिया। अब तुम्हें भी मारेंगे। मुकेश व मदनलाल मारने दौड़े, तो उन्होंने शोर मचाया। इस पर गांव व परिवार के लोग आ गए और आरोपी फरार हो गए।