Hindi News »Rajasthan »Atru» सीसी रोड में दबा दिया हैंडपंप, ग्रामीणों को करना पड़ रहा है पानी के लिए मशक्कत

सीसी रोड में दबा दिया हैंडपंप, ग्रामीणों को करना पड़ रहा है पानी के लिए मशक्कत

इस साल जहां कम बारिश के चलते क्षेत्र में पानी की किल्लत बनी हुई है। वहीं कापड़ीखेड़ा गांव में जिम्मेदारों ने सीसी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 10, 2018, 04:10 AM IST

इस साल जहां कम बारिश के चलते क्षेत्र में पानी की किल्लत बनी हुई है। वहीं कापड़ीखेड़ा गांव में जिम्मेदारों ने सीसी सड़क के निर्माण के दौरान हैंडपंप को सीसी रोड में दबा दिया।

स्थानीय निवासी अनिता बाई व रुक्मिणी बाई सहरिया ने बताया कि सहरिया बस्ती के लोगों को खेतों में लगी ट्यूबवैल से पानी लाना पड़ रहा है। 2-3 माह पहले बस्ती में एक हैडपंप लगाया था, उसमें पानी भी आ रहा था, लेकिन पंचायत की ओर से बनाई गई सीसी सड़क के दौरान हैंडपंप को रोड में ही दबा दिया। ऐसी स्थिति में हैंडपंप के नीचे बर्तन भी नहीं रख सकते।

अगर हैंडपंप के अंदर पानी है तो उसकी जांच की जाएगी। इसके बाद पीएचईडी के माध्यम से हैंडपंप में पाइप जोड़कर हैंडपंप को ऊपर लाया जाएगा। इसके लिए सचिव को कहकर जल्द ही इस कार्य को करवाया जाएगा, ताकि ग्रामीणों को पेयजल समस्या का सामना नहीं करना पड़े। - दिवाकर मीणा, बीडीओ किशनगंज

किशनगंज. कापड़ीखेड़ा गांव में बनाए सीसी रोड में हैंडपंप दबा देने से ग्रामीणों को हो रही है परेशानी।

गोगरा गांव के हैंडपंपों में आता है खारा पानी:शाहाबाद. बीलखेड़ा पंचायत के गोगरा गांव में पेयजल संकट बना हुआ है। कुबेर यादव एडवोकेट ने बताया कि गांव में दर्जनों हैंडपंप लगे हुए हैं, लेकिन सभी में खारा पानी आने से पीने योग्य नहीं है। ग्रामीणों ने बताया कि पीने का पानी खेतों पर बने कुएं से लाना पड़ रहा है। वर्षों पहले सरकार ने एक कुएं का निर्माण करवाया था, उसमें पीने योग्य पानी है, लेकिन कुएं की सफाई नहीं होने से परेशानी बनी हुई है। विद्यालय में भी एक हैंडपंप लगा हुआ है, जिसमें भी खारा पानी ही आता है। छात्रों को घर पर पानी पीने आना पड़ता है। इस समस्या के समाधान के लिए छात्रों ने भी गुहार लगाई है। अतुल यादव, भारत यादव, लखन यादव, कुबेर यादव, सोनू यादव आदि ने प्रशासन से कुएं का निर्माण कराने की मांग की है। कार्यवाहक बीडीओ छुट्टनलाल मीणा ने बताया कि अभी मुख्य कार्यकारी अधिकारी का दौरा हुआ था, तब उनको समस्या बताई थी। उन्होंने ग्रामीणों की इस समस्या के समाधान के लिए कुएं के प्रस्ताव बनाने के लिए कहा था। प्रस्ताव जल्दी ही जिला परिषद कार्यालय को भेजा जाएगा, ताकि समस्या का समाधान हो सके।

मेरमाचाह में 25 हजार लीटर की टंकी से होगी जल सप्लाईअटरू. क्षेत्र की ग्राम पंचायत मेरमाचाह में पेयजल की समस्या के समाधान के लिए ग्राम पंचायत की ओर से 25 हजार लीटर की पानी की टंकी का निर्माण कराया है। सरपंच लक्ष्मीचंद पेंटर ने बताया कि पंचायत मुख्यालय के नलकूपों में जलस्तर कम हो जाने से पानी आना बंद हो गया है। इससे ग्रामवासियों को परेशान होना पड़ रहा है। बस स्टैंड के पास पेयजल की गंभीर समस्या होने से एसएफसी मद से 25000 लीटर की पानी की टंकी का निर्माण कराया गया है। इसमें पीएचईडी विभाग की ओर से प्रतिदिन पानी के तीन टैंकर भरकर पेयजल के लिए उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। सरपंच ने बताया कि पीएचईडी से पंचायत क्षेत्र के गांव महेशपुरा, गंदोलिया, भेड़किया, पतलिया में भी पानी के टैंकर से सप्लाई करने की मांग की है। गौरतलब है कि पेयजल की टंकी पर सरपंच ने रंग-रोगन भी किया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Atru

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×