Hindi News »Rajasthan »Bali» एक सप्ताह में तीन पैंथर के शव मिले एसडीएम ने वन विभाग से कारण पूछा

एक सप्ताह में तीन पैंथर के शव मिले एसडीएम ने वन विभाग से कारण पूछा

बाली. दातीवाड़ा गांव की लाहरा भाकर पर मिला पैंथर का शव। हर अंग का करते हैं इस्तेमाल, इसलिए है कीमती नाखून :...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 04, 2018, 02:20 AM IST

एक सप्ताह में तीन पैंथर के शव मिले एसडीएम ने वन विभाग से कारण पूछा
बाली. दातीवाड़ा गांव की लाहरा भाकर पर मिला पैंथर का शव।

हर अंग का करते हैं इस्तेमाल, इसलिए है कीमती

नाखून : पेंडेंट बनाने में, तांत्रिक क्रिया में भी, एक-एक नाखून की कीमत लाखों में।

खाल : जैकेट, दस्ताने, पर्स, सूटकेस बनाने में।

मूंछ के बाल : माना जाता है कि पैंथर की मूंछ का बाल किसी को खिला दें, तो उसका हाजमा इस हद तक खराब हो जाता है कि मौत भी हो सकती है। इसका मेडिकल में भी उपयोग है।

हड्डियां-मांस : हड्डियों के पाउडर और चर्बी को एनर्जी प्रोडक्ट के रूप में उपयोग।

एक सप्ताह में तीन पैंथर के शव मिलने के बावजूद वन विभाग नहीं कर रहा कार्रवाई

भास्कर न्यूज | बाली

प्रदेश में पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण बाली तहसील का पैंथर पॉइंट लगता है तांत्रिकों और तस्करों के निशाने पर है। तहसील में पिछले एक सप्ताह में तीन पैंथरों के शव मिले है। इसी कारण उपखण्ड अधिकारी गौरव अग्रवाल ने वन विभाग के अधिकारियों से पैंथरों की मौत के कारण पूछे है।

सूत्रों के अनुसार शनिवार को बाली के निकट दांतीवाड़ा गांव के लाहरा भाकर पर एक और पैंथर का शव मिला। इस सप्ताह मरने वाले पैंथरों की संख्या तीन हो गई है। इससे पूर्व बिसलपुर की पहाडिय़ों में पैंथर का शत विशप्त शव मिला था। उसके दूसरे दिन बाली के निकट केरापुरा गांव की पहाडिय़ों में पैंथर का शव मिला था, जिसके चारों पैर और दांत गायब थे। शनिवार को लहरा भाखर की पहाडिय़ों पर पैंथर का शव मिलने की सूचना मिलते ही वन विभाग के कर्मचारी पहुंचे और पैंथर के शव को बाली वन विभाग की चौकी लेकर आए। रेंजर पहाड़सिंह ने बताया कि सोमवार सुबह पैंथर का पोस्टमार्टम किया जाएगा। इधर, बाली उपखण्ड अधिकारी गौरव अग्रवाल ने लगातार पैंथरों की मौत को चिंताजनक बताते हुए वन विभाग के अधिकारियों से इसका कारण पूछा है। विभाग द्वारा पैंथरों की सुरक्षा में किये जाने वाले प्रयासों की जानकारी देने को भी कहा है।

तस्करों के साथ अब तांत्रिकों के निशान पर पैंथर

तस्करों के साथ अब तांत्रिकों के निशाने पर क्षेत्र के पैंथर है। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि बाली के निकट केरापुरा गांव की पहाडिय़ों में पैंथर का जो शव मिला था, उसके चारों पैर और दांत गायब थे। माना जाता है कि पैंथर के पंजे और दांत तांत्रिक पूजा में महत्वपूर्ण है।

एक सप्ताह में तीन पैंथर मरे, अधिकारी नहीं कर रहे कार्रवाई

पिछले एक सप्ताह में जंगलों में से तीन पैंथर के शव मिल चुके है। इसको लेकर पूरे क्षेत्र में सनसनी है लेकिन दूसरी और वन विभाग और अधिकारी मौन धारण किए बैठे है। वन विभाग के अधिकारियों की ओर से अभी तक इसकी जांच के लिए कमेटी तक नहीं बनाई गई है कि आखिर इनके पीछे कौन है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bali News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: एक सप्ताह में तीन पैंथर के शव मिले एसडीएम ने वन विभाग से कारण पूछा
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Bali

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×