• Home
  • Rajasthan News
  • Balotra News
  • Balotra - बाबा दूज पर उमड़ा आस्था का सैलाब, जयकारों से गूंज उठा बिठूजाधाम
--Advertisement--

बाबा दूज पर उमड़ा आस्था का सैलाब, जयकारों से गूंज उठा बिठूजाधाम

बाबा रामदेव की विश्राम स्थली के रूप मेंं प्रसिद्ध बिठूजाधाम स्थित रामसापीर मंदिर पर मंगलवार को बाबा रामदेवजी के...

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 03:10 AM IST
बाबा रामदेव की विश्राम स्थली के रूप मेंं प्रसिद्ध बिठूजाधाम स्थित रामसापीर मंदिर पर मंगलवार को बाबा रामदेवजी के अवतरण दिवस बाबा दूज पर आयोजित मेले में दूर-दराज क्षेत्रों से हजारों श्रद्धालुओं ने आकर बाबा रामदेवजी की प्रतिमा के दर्शन कर पूजा-अर्चना की। ट्रस्ट अध्यक्ष भैरूलाल डागा ने बताया कि मंदिर में भादवा शुक्ल पक्ष की बाबा दूज के अवसर पर मंगलवार को दिनभर श्रद्धालुओं की रेलमपेल लगी रही। अलसुबह ब्रह्ममुहूर्त में क्षेत्र के बालोतरा, जसोल, पचपदरा, पारलू, कनाना, सराणा, जानियाना, वरिया, मेवानगर, बुड़ीवाड़ा, जागसा, असाड़ा, टापरा, गोपड़ी, आसोतरा सहित आसपास के गांव व कस्बों से सैकड़ों की तादाद में पैदल जातरू हाथों में पंचरंगी ध्वज पताका लिए बिठूजाधाम आकर बाबा रामसापीर की आदमकद प्रतिमा के दर्शन पूजन कर महाआरती में भाग लिया। बाबा दूज के मौके पर रामदेव की प्रतिमा का वैदिक मंत्रोच्चार के साथ द्वारा पंचामृत से अभिषेक के साथ नवीन वस्त्र, आभूषण पहनाकर गुलाब व चमेली के सुगंधित फूलों से श्रृंगार किया गया। सवेरे ब्रह्म मुहूर्त में एक सौ एक दीप प्रज्जवलित कर महाआरती की गई। महाआरती के बाद सवेरे 11 फीट लंबी रंग-बिरंगी ध्वजा को ढोल ढमाकों के साथ मंदिर शिखर पर ले जाकर चढ़ाई गई। डागा ने बताया कि दूज के मौके पर मंदिर परिसर में दोपहर को भजन कीर्तन का आयोजन हुआ। भजन कीर्तन में गायक विजयराज भाटी, नारायण माजीराणा, मदन माली, भैराराम, राजू सुथार सहित कई कलाकारों ने भजनों की प्रस्तुतियां दी। बाबा रामसापीर के मुख्य मंदिर सहित बालकनाथ का धूणा, डाली बाई, सुगनाबाई, शिव, कृष्ण व विष्णु भगवान के मंदिर पर भी आकर्षक फूलों से सजावट की गई। मंदिर में जातरूओं की लंबी कतारें देखी गई।

बाबा के अभिषेक के लाभार्थी जवेरीलाल रतनलाल हुंडिया, वस्त्राभूषण के लाभार्थी रामदेवजी अग्रवाल बीकानेर, महाप्रसादी के लाभार्थी रणछोड़राम धन्नाराम चौधरी जेठंतरी, पेयजल के लाभार्थी मदरूपाराम चौधरी कीटनोद, विष्णु भगवान के वस्त्राभूषण के लाभार्थी बंशीलाल पुष्पराज अजीत व मेडिकल सेवा के लाभार्थी तखतमल मोहनलाल महावीरचंद गोगड़ का बहुमान हुअा।

कई पैदल जत्थे दर्शन करने पहुंचे, जयकारे लगाते हुए बाबा से मांगी मन्नते, श्रद्धालुओं के लिए पेय पदार्थो की रही व्यवस्था