• Home
  • Rajasthan News
  • Bandikui News
  • जयपुर के शिशु रोग सर्जन डॉ. प्रतापसिंह आज बंादीकुई में
--Advertisement--

जयपुर के शिशु रोग सर्जन डॉ. प्रतापसिंह आज बंादीकुई में

जयपुर के शिशु रोग सर्जन डॉ. प्रतापसिंह आज बंादीकुई में बांदीकुई | जेके लान हास्पिटल जयपुर के शिशु रोग सर्जन एवं...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:00 AM IST
जयपुर के शिशु रोग सर्जन डॉ. प्रतापसिंह आज बंादीकुई में

बांदीकुई | जेके लान हास्पिटल जयपुर के शिशु रोग सर्जन एवं सहायक आचार्य डॉ. आदित्य प्रताप सिंह आज मधुर चाइल्ड हास्पिटल बांदीकुई में अपनी सेवाएं देंगे। मधुर हास्पिटल के संचालक डॉ. राजेश धाकड़ ने बताया कि जेके लान हॉस्पिटल जयपुर के शिशु शल्य चिकित्सा ईकाई के सहायक आचार्य डॉ. आदित्य प्रताप सिंह अब प्रत्येक माह के पहले रविवार को सुबह 11 से दोपहर 1 बजे तक मधुर चाइल्ड हास्पिटल बांदीकुई में अपनी सेवाएं देकर शिशु रोग से जुड़े मरीजों को परामर्श देंगे।

अधिक प्राप्तांक वाले अभ्यर्थी को वंचित करने की शिकायत

दौसा | राजस्थान गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के प्रदेश प्रवक्ता हिम्मत सिंह ने तृतीय श्रेणी अध्यापक सीधी भर्ती परीक्षा 2013 प्रथम लेवल के चयन में धांधली के मामले में पंचायत राज मंत्री को ज्ञापन दिया है। प्रदेश प्रवक्ता ने बताया कि जिला परिषद दौसा द्वारा अधिक प्राप्तांक अभ्यर्थी प्रेमसिंह गुर्जर (निशक्तजन) के प्राप्तांक 155.99 हैं, जिसे नियुक्ति से वंचित रखकर कम प्राप्तांक अभ्यर्थी शकुंतला कुमारी (निशक्तजन) के प्राप्तांक 153.91 हैं, उसे नियुक्ति देने में मिलीभगत कर धांधली की है। उन्होंने मामले में दोषी अधिकारी व लिपिक के खिलाफ कार्रवाई कर वंचित अभ्यर्थी को नियुक्ति आदेश दिलाने की मांग की है। उन्होंने बताया कि धांधली पर पर्दा डालने का प्रयास करके परीक्षा कमेटी में पूर्व चयन कमेटी के सदस्य जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक दौसा व एबीईईओ सिकराय को शामिल कर कार्मिक विभाग की राय व नियमों की अनदेखी करके परीक्षण रिपोर्ट प्रस्तुत की गई है। इसमें उच्च प्राप्तांक वाले निशक्तजन प्रेमसिंह गुर्जर को वंचित रखने का प्रयास किया जा रहा है।

प्रवीण राष्ट्रीय परशुराम सेना युवा वाहिनी के जिलाध्यक्ष

दौसा | राष्ट्रीय परशुराम सेना युवा वाहिनी के प्रदेशाध्यक्ष सुनील पीढी ने प्रवीण शर्मा को वाहिनी का जिलाध्यक्ष नियुक्त किया है। उन्होंने बलराम मिश्रा को जिला उपाध्यक्ष नियुक्त किया है। साथ ही जिलाध्यक्ष को 10 दिवस में कार्यकारिणी का गठन करने के निर्देश दिए हैं।