• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Banswara News
  • लैपटाॅप लेने के लिए आए बच्चे तीन घंटे से ज्यादा समय तक गर्मी में तपे
--Advertisement--

लैपटाॅप लेने के लिए आए बच्चे तीन घंटे से ज्यादा समय तक गर्मी में तपे

बांसवाड़ा। सरकार की ओर से हौसला अफजाई के लिए मेधावी बच्चों को लैपटॉप बांटने का कार्यक्रम बच्चों के लिए शनिवार को...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 04:20 AM IST
लैपटाॅप लेने के लिए आए बच्चे तीन घंटे से ज्यादा समय तक गर्मी में तपे
बांसवाड़ा। सरकार की ओर से हौसला अफजाई के लिए मेधावी बच्चों को लैपटॉप बांटने का कार्यक्रम बच्चों के लिए शनिवार को आफत बन गया। करीब तीन घंटे इंतजार के बाद 176 बच्चों को लैपटॉप देने का सिलसिला दोपहर बाद तीन बजे तक थमा। इस दौरान बच्चे खासे परेशान हुए।

दरअसल, आयोजकों ने राज्यमंत्री धनसिंह रावत के आने के समय को देखते हुए दोपहर 12.30 बजे समारोह का समय दिया, जबकि बच्चों को सुबह 10 बजे ही पंजीकरण और औपचारिकताएं पूरी करने के नाम पर बुला लिया गया। इससे दूर गांवों में रहने वाले बच्चों को 8-9 बजे ही अभिभावकों के साथ घर छोड़ना पड़ा। फिर तमाम कागजी कार्रवाइयां हो गई, तो मुख्य अतिथि लेट हो गए। उनके इंतजार में बच्चे पसीना-पसीना रहे। इंजीनियरिंग कॉलेज पहुंचने के बाद मंत्री रावत ने भी इसे भांपा और मुश्किल से पांच मिनट में सात प्रतिभावान छात्राओं को स्कूटी की चाबियां दिलाने के बाद आयोजकों को भीतर दौड़ना पड़ा। यहां भी मुसीबत कम नहीं रही, कारण कि स्वागत-सत्कार और भाषणों के दौर से आयोजन खींच गया। फिर जब मंत्री रावत को खुद किसी दूसरे कार्यक्रम में जाने का समय तय हो गया, तो दो-चार बच्चों को अपने हाथ से लेपटॉप देने के बाद वे आगे बढ़ गए।

बांसवाड़ा. इंजीनियरिंग कॉलेज में ब्लॉक स्तरीय लैपटॉप वितरण कार्यक्रम में अतिथियों के साथ प्रतिभावान छात्र-छात्राएं।

कविता को बर्थ-डे का उत्साह, गर्मी ने घटाया स्कूटी का उत्साह

स्कूटी के लिए चयनित छींच की कविता बंजारा चाबी मिलने तक घबराने लगी। उसका आज बर्थ-डे था। सरकारी गिफ्ट की खातिर वह सुबह से आई हुई थी। टामटिया आड़ा की छात्रा मिलन मेहता ने बताया कि वह भी सुबह 10.30 बजे से आई। गर्मी ने हालत खराब कर दी। इसी तरह बागीदौरा सीनियर स्कूल की छात्रा अंजलि दायमा, सरस्वती स्कूल, उदाजी का गढ़ा से आई तमन्ना कुमारी, प्राची पाटीदार, गनोड़ा से आई साक्षी जैन और लोहारिया से आई भारती कटारा भी बार-बार पसीना पोंछती दिखी।

भाषण से दिलाया जोश, मिथक तोड़ने का आह्वान

समारोह में मुख्य अतिथि मंत्री रावत ने गांगड़तलाई, छोटी सरवन और आनंदपुरी ब्लॉक से चुने गए क्रमश: 4, 1 और 12 बच्चों के मुकाबले बांसवाड़ा में बड़ी संख्या में लेपटॉप हासिल करने वाले बच्चे होने पर कहा कि यह बांसवाड़ा का बेस्ट मास है। उन्होंने योग्यता के आगे बेरोजगारी का संकट नहीं होने की बात की। बिजली के अभाव में लैपटॉप काम नहीं करने के सवाल पर उन्होंने बांसवाड़ा से गुजरती कर्क रेखा वरदान बताते हुए यहां बिजली के विकल्प सोलर एनर्जी को बढ़ावा देने पर जाेर दिया। विशिष्ट अतिथि इंजीनियरिंग कॉलेज के प्राचार्य डॉ. शिवलाल ने शिक्षा क्षेत्र में बांसवाड़ा के 13वें स्थान पर होने का जिक्र कर कहा कि वागड़ को पिछड़ा कहना गलत है। सोच ऊंची रखकर सोशल इमेज के मद्देनजर आईएएस, आईपीएस और डॉक्टर-इंजीनियर बनने के लिए प्रेरित किया। अध्यक्षता करते हुए सभापति मंजूबाला पुरोहित, प्रधान दूधालाल, डीईओ आरपी द्विवेदी, आयोजक नूतन स्कूल के प्राचार्य प्रमोद शाह ने भी विचार व्यक्त किए। विशिष्ट अतिथियों में भाजपा महामंत्री लालसिंह पाटीदार, नूतन स्कूल के अभिभावक संघ के अध्यक्ष राजेश भावसार भी मौजूद थे।

X
लैपटाॅप लेने के लिए आए बच्चे तीन घंटे से ज्यादा समय तक गर्मी में तपे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..