• Home
  • Rajasthan News
  • Banswara News
  • 33 जिलों में 14252 किमी क्षतिग्रस्त सड़कों पर होंगे 2361 करोड़ रुपए खर्च
--Advertisement--

33 जिलों में 14252 किमी क्षतिग्रस्त सड़कों पर होंगे 2361 करोड़ रुपए खर्च

29 जिलों में 12171 किलोमीटर क्षतिग्रस्त सड़कों (नाॅन पेचेबल) के नवीनीकरण की योजना दो दिन पहले हुई राजस्थान राज्य सड़क...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 07:25 AM IST
29 जिलों में 12171 किलोमीटर क्षतिग्रस्त सड़कों (नाॅन पेचेबल) के नवीनीकरण की योजना दो दिन पहले हुई राजस्थान राज्य सड़क विकास निधि प्रबंध बोर्ड बैठक में स्वीकृति मिल गई है।

बैठक सानिवि मंत्री यूनुस खान की अध्यक्षता में हुई। सड़क निर्माण की घोषणा मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने बजट भाषण 2018-19 के दौरान की थी। इस प्रकार बुधवार को हुई बैठक में 2361 करोड़ 12 लाख रुपए की लागत से कुल 14252 किलोमीटर नाॅन पेचेबल सड़कों के नवीनीकरण को बोर्ड द्वारा अनुमोदन किया गया। इससे पहले अलवर, अजमेर और भीलवाड़ा में सड़क निर्माण के आदेश पहले ही जारी हो चुके थे। सार्वजनिक निर्माण मंत्री खान ने बताया कि प्रदेश में दिसम्बर तक एक भी टूटी सड़क नहीं छोड़ने की भावना के अनुरूप तेजी से सड़कों का नवीनीकरण किया जाएगा। बोर्ड में मकराना बाइपास निर्माण के लिए 29.96 करोड़ रुपए की पूर्व अनुमोदित राशि को संशोधित कर 36 करोड़ 31 लाख 44 हजार किए गए। दौलतपुरा से लोसल सड़क के निर्माण के लिए 40 करोड़ 81 लाख 52 हजार रुपए स्वीकृत किए गए। प्रतापगढ़-अरनोद सड़क के लिए पूर्व 14 करोड़ रुपए के पूर्व अनुमोदन को बढ़ाकर 70 करोड़ किया गया एवं तकनीकी आधार पर भविष्य में आवश्यकता होने पर इसे बढ़ाए जाने के प्रस्ताव को स्वीकृति जारी की गई। बैठक में सलूम्बर से बांसवाड़ा सड़क पर दुर्घटना की आशंका को देखते हुए इसके सीडी कार्यों को चौड़ा करने के लिए 10 करोड़ के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।

बृज 84 कोस में परिक्रमा मार्ग में होगी पार्किंग, शेड और शौचालय की सुविधा

खान ने बताया कि पदयात्रियों की सुविधा को देखते हुए सप्तकोसी, बृज 84 कोस परिक्रमा मार्ग पर पार्किंग सुविधा, शेड, विद्युतीकरण, शौचालय, सजावटी दरवाजे, यूटिलिटी शिफ्टिंग, पुल, भूमि अवाप्ति आदि कार्यों के लिए अतिरिक्त 25 करोड़ के प्रस्तावों को मंजूरी दी गई है। एसआरएफ प्रबंधन बोर्ड की बैठक में प्रमुख शासन सचिव सानिवि आलोक, विशिष्ट शासन सचिव, वित्त जाकिर हुसैन, मुख्य अभियंता पथ एम.जी.माहेष्वरी, से.नि. शासन सचिव, सानिवि जी.एल.राव, चार्टर्ड अकाउंटेंट अनिल माथुर, एनजीओ प्रतिनिधि सनवर खान थे।