• Hindi News
  • Rajasthan
  • Banswara
  • Partapur News rajasthan news a flower without pollen is useless and life without a friend is useless muni prateek sagar

पराग के बिना फूल बेकार है और मित्र के बिना जीवन बेकार है : मुनि प्रतीक सागरजी

Banswara News - वस्त्रों में जो सुगंध पैदा करने के लिए ईत्र चाहिए, जीवन में सुगंध पैदा कर दे ऐसे चरित्रवान मित्र चाहिए और जो मंजिल...

Dec 11, 2019, 10:45 AM IST
Partapur News - rajasthan news a flower without pollen is useless and life without a friend is useless muni prateek sagar
वस्त्रों में जो सुगंध पैदा करने के लिए ईत्र चाहिए, जीवन में सुगंध पैदा कर दे ऐसे चरित्रवान मित्र चाहिए और जो मंजिल तक पहुंचा दे ऐसा जीवन में चरित्र चाहिए। नमक के बिना भोजन बेकार है, पराग के बिना फूल बेकार है और मित्र के बिना जीवन बेकार है। लेकिन वह मित्र नहीं जो माल खाने में तुम्हारे आगे चले और मार खाने में अकेला छोड़ कर भाग जाए। सच्चा मित्र तो धर्म है जो जीते जी भी साथ रहता है और मरने के बाद भी साथ जाता है। क्रांतिवीर मुनि प्रतीक सागर जी महाराज नया मंदिर स्थित सभा भवन में अमृत संस्कार प्रवचन सभा को संबोधित करते हुए आगे कहा कि इस मतलबी दुनिया में कोई किसी का साथ नहीं देता सब तख्त पर तो एक होते हैं, लेकिन वक्त आने पर पीठ दिखा देते हैं। आज गुरु और शिष्य के रिश्ते भी पाक नहीं रहे। उन में भी महत्वाकांक्षा की बदबू आने लगी है। माता-पिता और गुरु के एक समान संतान और शिष्यों पर अनुग्रह रखना चाहिए, उन में भेद नहीं करना चाहिए। संत आनंद में जीता है और आनंद को ही बांटता है। धर्मसभा के प्रारंभ में बालकों द्वारा भगवान पारसनाथ की प्रार्थना का गायन किया गया। सभा का संचालन संदीप जैन ने किया। शाम को आनंदयात्रा गुरु भक्ति आरती का कार्यक्रम के अंत में मुनिश्री की आरती की गई।

नया मंदिर स्थित सभा भवन में प्रवचन के दौरान मुनि की आरती करते श्रद्धालु।

भास्कर संवाददाता|गढ़ी

वस्त्रों में जो सुगंध पैदा करने के लिए ईत्र चाहिए, जीवन में सुगंध पैदा कर दे ऐसे चरित्रवान मित्र चाहिए और जो मंजिल तक पहुंचा दे ऐसा जीवन में चरित्र चाहिए। नमक के बिना भोजन बेकार है, पराग के बिना फूल बेकार है और मित्र के बिना जीवन बेकार है। लेकिन वह मित्र नहीं जो माल खाने में तुम्हारे आगे चले और मार खाने में अकेला छोड़ कर भाग जाए। सच्चा मित्र तो धर्म है जो जीते जी भी साथ रहता है और मरने के बाद भी साथ जाता है। क्रांतिवीर मुनि प्रतीक सागर जी महाराज नया मंदिर स्थित सभा भवन में अमृत संस्कार प्रवचन सभा को संबोधित करते हुए आगे कहा कि इस मतलबी दुनिया में कोई किसी का साथ नहीं देता सब तख्त पर तो एक होते हैं, लेकिन वक्त आने पर पीठ दिखा देते हैं। आज गुरु और शिष्य के रिश्ते भी पाक नहीं रहे। उन में भी महत्वाकांक्षा की बदबू आने लगी है। माता-पिता और गुरु के एक समान संतान और शिष्यों पर अनुग्रह रखना चाहिए, उन में भेद नहीं करना चाहिए। संत आनंद में जीता है और आनंद को ही बांटता है। धर्मसभा के प्रारंभ में बालकों द्वारा भगवान पारसनाथ की प्रार्थना का गायन किया गया। सभा का संचालन संदीप जैन ने किया। शाम को आनंदयात्रा गुरु भक्ति आरती का कार्यक्रम के अंत में मुनिश्री की आरती की गई।

धर्म के प्रतिआसक्ति भगवान बनने में सहायक

परतापुर| क्रांतिकारी संत मुनि प्रतीक सागर ने जूना मंदिरजी में आयोजित धर्म सभा में कहा कि राग अचेतन के प्रति होता है, चेतन व अचेतन के प्रति द्वेष होता है। लेकिन मोह मात्र चेतन के प्रति होता है। तेल में पानी मिलाओ या पानी मे तेल मिलाकर कितना भी हिलाओ वे एक दूसरे से नहीं मिलते। यह राग का परिणाम है, जबकि दूध में पानी या पानी मे दूध मिलाओ पानी दूध के भाव बिकना यह मोह का परिणाम है। मनुष्य की दुर्दशा का मुख्य कारण संसार के प्रति राग है। सच्चा साधु व श्रावक धर्म रथ के दो पहिये हैं। इसलिए साधु को धर्म उपदेश देकर व श्रावक को धर्म प्रभावना में सहयोग करना चाहिए। धर्म सभा के प्रारंभ में मंगलाचरण पवन शाह, दीप प्रज्ज्वलन संदीप जैन, पवन धिरावत, महिपाल भरड़ा व सुरेंद्र कोठिया ने व शास्त्र भेंट अशोक दोसी, सुमतिलाल धीरावत, अजीत कोतवाल व अरविंद शाह ने किया। शाम को जूना मंदिर में गुरुदेव के सानिध्य में आनन्द यात्रा संपन्न कर पंच परमेष्ठी व गुरुदेव की आरती उतारी गई।

प्रतीक सागरजी

Partapur News - rajasthan news a flower without pollen is useless and life without a friend is useless muni prateek sagar
X
Partapur News - rajasthan news a flower without pollen is useless and life without a friend is useless muni prateek sagar
Partapur News - rajasthan news a flower without pollen is useless and life without a friend is useless muni prateek sagar
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना